Kullu Honey Trap Case: जेल में 2 पुलिसकर्मियों की महिला से हुई थी दोस्ती, फिर लगे धमकाने

हिमाचल पुलिस के लिए शर्मनाक मामला.

हिमाचल पुलिस के लिए शर्मनाक मामला.

Kullu Crime: हनीट्रैप केस में गिरफ्तार महिला ने जेल में दो पुलिस कर्मियों (Police Personnels) से दोस्ती की और बेल पर बाहर आने के बाद मिलकर फिर से वसूली का काम शुरू कर दिया. शिकायत के बाद फंसे इन दोनों कर्मचारियों को गिरफ्तार कर जेल (jail) भेज दिया गया है.

  • Share this:

कुल्लू. हिमाचल प्रदेश के कुल्लू (Kullu) जिले में हनी ट्रैप के मास्टरमाइंड महिला और पुरुष का साथ देने पर कुल्लू सब-जेल के दो पुलिस कर्मचारी भी फंस गए हैं. इन दोनों कर्मचारियों को गिरफ्तार करने के बाद जेल भेज दिया गया है. आरोप है कि इन्होंने हनी ट्रैप में जेल में रहे सुरेंद्र और उसकी पत्नी कृष्णा के गिरोह के साथ डाबरी के लोगों को वसूली के लिए धमकाने में साथ दिया है. अब तक इस मामले में 6 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है.

दरअसल, सुरेंद्र उर्फ और उसकी पत्नी कृष्णा के साथ हनी ट्रैप मामले में जेल में थे. चार दिन पहले ही कोर्ट से बेल लेकर बाहर आए थे और जेल में रहते हुए कृष्णा और सुरेंद्र ने दो जेल कर्मियों से दोस्ती कर ली. जैसे ही वे दोनों जेल से बाहर आए तो उन्होंने जेल कर्मियों को पार्टी के लिए अपने घर बुलाया और रात को पार्टी की. इसी बीच सुरेंद्र और कृष्णा और उनके रिश्तेदार वबन और सरना ने अलग अलग लोगों को धमकाने का काम किया, जिसमें जेल कर्मियों ने भी उनका साथ दिया. उसके बाद रात को जेल कर्मी उनके घर में ही जाकर छुप गए थे.

शराब की बोतलें मिलीं

शिकायत मिलने पर पुलिस ने उनके घर में तलाशी ली तो सिकंदर और कृष्णा के घर से संतरा मार्का शराब की 8 बोतलें बरामद की और साथ में जेल कर्मियों को भी यहां से गिरफ्तार किया गया, जिनकी पहचान निशांत शर्मा पुत्र महिन्द्र शर्मा निवासी गांव रजियाड़ा डाकघर गरली तहसील देहरा थाना ज्वालाजी, जिला कांगड़ा हि.प्र. व उम्र 25 साल तथा सचिन (26) पुत्र जोगिन्द्र सिंह गांव मन्दवाड़ा डाकघर नलसुहा तहसील व थाना देहरा जिला कांगड़ा शामिल है.
क्या कहती है पुलिस

डीएसपी कुल्लू हैडक्वाटर प्रियांक गुप्ता ने बताया कि देवी राम निवासी गांव दोहरानाला ने पुलिस को शिकायत दी कि 30 मई की रात करीब सवा 12 सुरेंद्र, उसकी पत्नी कृष्णा, रिश्तेदार वबन सरना एक सफेद रंग की बड़ी गाड़ी में आए. चारों ने गाल-गलौज और जान से मारने की धमकी दी. जब वह घर से बाहर नहीं निकले तो उन्हें घर के कमरे का दरवाजा तोड़ दिया. कमरे से दो गैस सिलेण्डर तथा अलमारी से 50,000 रुपए नकद चुरा कर ले गए.

दूसरी शिकायत में लगा आरोप



दूसरे मामले में मंगत राम पुत्र ढाले राम भाखली ने भी शिकायत की है कि 29 मई की रात को ये आए, जिसमें दो जेल के कर्मचारी भी शामिल थे और उसके साथ भी धक्कामुक्की की और धमकियां दी. भुंतर पुलिस ने इस घटना में सिंकदर, दो जेल कर्मियों और अन्य के खिलाफ आईपीसी की धारा 365, 341, 342, 323, 212, 188, 506, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. पंचायत प्रधान शिलीराज गिरी डोला राम ने बताया कि दोहरानाला में हनीट्रैप गिरोह के कई लोग सक्रिय हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज