कुल्लू बस हादसा: ऑफिस से फोन आते रहे, पत्रकार मोहन की हो चुकी थी मौत

जानकारी के अनुसार, निजी बस कुल्लू से गाड़ागुशैणी जा रही थी. इस दौरान बंजार से एक किलोमीटर आगे तीखे मोड से 500 मीटर नीचे नदी में जा गिरी. बस यात्रियों से खचाखच भरी हुई थी. बस की छत पर भी लोग सवार थे.

News18 Himachal Pradesh
Updated: June 21, 2019, 10:44 AM IST
कुल्लू बस हादसा: ऑफिस से फोन आते रहे, पत्रकार मोहन की हो चुकी थी मौत
पत्रकार मोहन लाल ठाकुर. (फाइल फोटो)
News18 Himachal Pradesh
Updated: June 21, 2019, 10:44 AM IST
अखबार के ऑफिस से फोन आते रहे, लेकिन पत्रकार की मौत हो चुकी थी. दरअसल, हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में गुरुवार शाम को हुए भीषण सड़क हादसे में एक राष्ट्रीय अखबार के स्थानीय पत्रकार की भी मौत हो गई. 42 साल के मोहन लाल भी बंजार बस हादसे का शिकार हुए. वह अपनी दो बेटियों के साथ बस में जा रहे थे.

मोहन ला के साथ उनकी एक बेटी की मौत हो चुकी है, जबकि दूसरी बेटी कोमा में हैं. बताया जा रहा है कि हादसे के बाद मोहन लाल को उनके ऑफिस से खबर के लिए फोन किए गए, लेकिन उनका फोन बंद था. बाद में एक स्थानीय पत्रकार नवीन शर्मा ने उनके शव की पहचान की. मोहन लाल के परिवार में एक बेटा और पत्नी और माता पिता पीछे छूट गए हैं. जानकारी के अनुसार, मोहन लाल बाहू पंचायत के रहने वाले थे.वह 20 साल से पत्रकारिता जगत से जुड़े थे.

रोजाना इसी बस से जाते थे घर
स्थानीय पत्रकार नवीन कुमार ने बताया कि मोहन लाल एक निजी स्कूल में भी कार्यरत थे. घटना के दौरान वह अपनी तीन साल और चार साल की बेटियों के साथ घर जा रहे थे. 3 वर्षीय बेटी की मौत हो चुकी है, जबकि चार साल की बेटी घायल है.बंजार के पत्रकार नवीन शर्मा और हरिकृष्ण कौल ने अपने साथी के निधन पर शोक जताया और सरकार से सहायता की मांग.

अब तक 44 जानें गई
अब तक 44 लोगों की मौत हो चुकी है. हादसे में 35 लोग घायल हैं, जिनका इलाज चल रहा है. 23 घायल कुल्लू अस्पताल में भर्ती हैं, 8 को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है, जबकि चार घायल मंडी के नेरचौक मेडिकल कॉलेज में भर्ती हैं. मामले को लेकर मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए हैं. एडीएम कुल्लू अक्षय सूद मामले की जांच करेंगे.

मोड़ से नदी में गिरी बस
Loading...

जानकारी के अनुसार, निजी बस कुल्लू से गाड़ागुशैणी जा रही थी. इस दौरान बंजार से एक किलोमीटर आगे तीखे मोड से 500 मीटर नीचे नदी में जा गिरी. बस यात्रियों से खचाखच भरी हुई थी. बस की छत पर भी लोग सवार थे. खाई में गिरते ही बस के परखच्चे उड़ गए. नदी के किनारे पहुंचते-पहुंचे बस की छत उड़ गई. इसमें ज्यादातर लोग स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट थे. जो घर लौट रहे थे.

ये भी पढ़ें: कुल्लू बस हादसा: मृतकों का आंकड़ा पहुंचा 44, 35 घायल

-10 डिग्री में 13050 फीट ऊंचे रोहतांग पर ITBP जवानों का योग

Kullu Bus Accident: 44 सीटर बस में सवार थे 79 यात्री

कुल्लू बस हादसा: PM मोदी और राहुल गांधी ने जताया दुख
First published: June 21, 2019, 10:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...