Home /News /himachal-pradesh /

मानसूनः आपदा से निपटने में बच्चों के स्वास्थ्य का सरकार रखेगी विशेष ध्यान

मानसूनः आपदा से निपटने में बच्चों के स्वास्थ्य का सरकार रखेगी विशेष ध्यान

कुल्लू की उपायुक्त ऋचा वर्मा ने स्पेशल टास्क फोर्स के गठन के दिए आदेश

कुल्लू की उपायुक्त ऋचा वर्मा ने स्पेशल टास्क फोर्स के गठन के दिए आदेश

कुल्लू की डीसी ऋचा वर्मा ने मानसून सीजन की आपदा से निपटने के लिए टास्क फोर्स का गठन करने के आदेश दिए हैं. उन्होंने आपदा से निपटने में बच्चों के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने को कहा है.

    हिमाचल प्रदेश में कुल्लू की  डीसी ऋचा वर्मा ने मानसून सीजन की आपदा से निपटने के लिए टास्क फोर्स का गठन करने के आदेश दिए हैं. उन्होंने आपदा से निपटने में बच्चों के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने को कहा है. मानसून सीजन में आपदा की तैयारियों को लेकर सभी विभागों के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई है. लोक निर्माण विभाग को आपदा से निपटने के लिए अपनी मशीनरी को विभिन्न मंडलों में पुख्ता तौर पर तैनात करने के निर्देश दिए गए हैं. नालियों की सफाई करने के निर्देश दे दिए गए हैं और सभी विभागों को स्पेशल टास्क फोर्स बनाने के निर्देश दिए हैं.

    संक्रामक बीमारियों से बचने के लिए साफ-सफाई के दिए आदेश

    आईपीएच व शिक्षा विभाग व स्वास्थ्य विभाग को पानी की टंकियों को साफ करने के निर्देश दिए हैं और मानसून सीजन के लिए प्रशासन के सभी विभाग पूरी तरह तैयार हैं. कुल्लू के उपायुक्त डॉ. ऋचा वर्मा ने बताया कि मानसून सीजन के लिए सभी विभागों को स्पैशल टास्क फोर्स को बनाने के लिए निर्देश दिए हैं.

    ओआरएस घर घर पहुंचाएगा स्वास्थ्य विभाग

    उन्होंने कहा कि मानसून सीजन में डायरिया रोग फैलने का खतरा रहता है. यही वजह है कि स्वास्थ्य विभाग को यह निर्देश दिया गया है कि सभी घरों में पांच वर्ष आयु तक के बच्चे है उन सभी घरों में ओआरएस का पैकेट पहुंचाए जा रहे हैं. उन्होने कहा कि ऐतिहातन ओआरएस का घोल हर समय घर में उपलब्ध रहना चाहिए.

    स्कूलों में पानी की टंकियों की सफाई शीघ्र हो

    उपायुक्त ने शिक्षा विभाग के उप.निदेशकों को निर्देश दिए कि सभी स्कूलों में पानी की टंकियों की सफाई सप्ताह के भीतर सुनिश्चित करें और टंकी पर तिथि भी अंकित की होनी चाहिए. इसके अलावा स्कूलों में शौचालयों को साफ रखने तथा आस.पास के वातावरण की भी सफाई करवाना सुनिश्चित करें.

    उबला हुआ पानी स्कूल लाने के लिए प्रेरित करें

    उन्होंने कहा कि बच्चों को घरों से उबला हुआ पानी स्कूल लाने के लिए प्रेरित करें. प्रातः कालीन सभा में बच्चों को हाथ धोने के छः चरणों के बारे में भी बताएं.

    स्कूलों की टंकियों में क्लोरीन की गोलियां डालें

    स्कूलों में एक्वागार्ड इत्यादि की सफाई तथा इसके आंतरिक उपकरणों को एक निश्चित अवधि के भीतर बदलवाने के भी प्रयास किए जाएं. स्कूलों की टंकियों में क्लोरीन की गोलियां यदि मुख्य आपूर्ति में नहीं हैं तो डालना सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि बच्चों की सेहत से किसी प्रकार का खिलवाड़ नहीं किया जा सकता. इसमें सभी अध्यापक व अभिभावक अपनी जिम्मेवारी को समझे.

    उपायुक्त ने कहा कि स्कूली टंकियों के पानी के नमूनों की जांच शमशी स्थित सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग की प्रयोगशाला में अवश्य करवा लें. इसी प्रकार कार्यालयों की टंकियों की सफाई के लिए उन्होंने संबंधित विभागों को निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि क्लोरीनेशन न होने की स्थिति में तुरंत से आईपीएच व स्वास्थ्य विभाग को कहें.

    यह भी पढ़ें: धर्म और भाषा की दीवार तोड़कर हंगरी की लड़की बनी हमीरपुर की दुल्हन

    नशे पर ढील! चौकी प्रभारी सस्पेंड, 11 पुलिसवालों को नोटिस

    Tags: Flood, Himachal pradesh, Kullu, Monsoon care

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर