मनाली को ध्वनि प्रदूषण से मुक्त करने के लिए 'नो हॉन्किंग कैंपेन'

मिनी वॉकथोन के माध्यम से मनाली की जनता और यहां पर आने वाले पर्यटकों को मनाली को हॉन्क फ्री रखने का संदेश दिया.

Sachin Sharma
Updated: May 17, 2018, 4:42 PM IST
मनाली को ध्वनि प्रदूषण से मुक्त करने के लिए 'नो हॉन्किंग कैंपेन'
नो हॉन्किंग कैंपेन के तहत आयोजित वाकथोन.
Sachin Sharma
Updated: May 17, 2018, 4:42 PM IST
हिमाचल प्रदेश में कुल्‍लू जिले की पर्यटन नगरी मनाली को शीघ्र ही ध्वनि प्रदूषण से मुक्त किया जाएगा. इसके लिए प्रशासन ने 'नो हॉन्किंग कैंपेन' भी चलाया है. इसी कार्यक्रम के अर्न्तगत गुरुवार को मनाली के मॉल रोड पर एक मिनी वॉकथोन का भी आयोजन किया गया.

इस मिनी वॉक थोन में विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ स्कूली बच्चों और अन्य संस्थानों के लोगों ने भी भाग लिया. मिनी वॉकथोन के माध्यम से मनाली की जनता और यहां पर आने वाले पर्यटकों को मनाली को हॉन्क फ्री रखने का संदेश दिया.

बता दें कि इन दिनों मनाली प्रशासन की तरफ से मनाली को ध्वनि प्रदूषण से मुक्त करने के लिए इस तरह के अभियान का आयोजन किया जा रहा है. अधिक जानकारी देते हुए मनाली एसडीएम रमन घरसंगी ने बताया कि आज मिनीवॉक थोन का आयोजन किया गया था, जो मनाली के रामबाग से शुरू हुआ था और इसमें विभिन्न संस्थानों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया. इस मिनी वॉकथोन से मनाली को हॉन्क फ्री करने के बारे में जागरूक किया गया. रमन ने कहा कि इसका मुख्य उद्देश्‍य मनाली को ध्वनि प्रदूषण से मुक्त करना है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर