कुल्लू थप्पड़ कांड: CM जयराम ठाकुर की नाराजगी, दो बार ASP-SP में बहस, फिर बाद में थप्पड़बाजी

कुल्लू के एसपी गौरव सिंह. पीएसओ बलवंत सिंह और एएसपी ब्रजेश सूद. (FILE PHOTO)

Kullu Police Slap Gate Case: वायरल वीडियो में हंगामे के दौरान एक फोरलेन प्रभावित किसान कह रहा है कि एसपी साहब को क्यों मार रहे हो, यह हंगामा सीएम के सुरक्षाकर्मियों की वजह से हो रहा है. हम आत्महत्या कर लेंगे.

  • Share this:
    शिमला. हिमाचल प्रदेश के कुल्लू (Kullu) जिले में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के दौरे के दौरान पुलिस अफसरों की भिड़ंत को लेकर लगातार वीडियो सामने आ रहे हैं. भिड़ंत से पहले का एक वीडियो (VIDEO) सामने आया है. दरअसल, जब भुंतर हवाई अड्डे के बाहर से गडकरी का काफिला गुजर रहा था तो वहां पर कीरतपुर मनाली फोरलेन के प्रभावित एकजुट हुए. वह केंद्रीय मंत्री से बात करना चाहते थे. गडकरी ने भी गाड़ी रोकर प्रभावितों से बात की और आश्वासन दिया कि वह मामले में उचित समाधान निकालेंगे. बाद में लोगों ने गडकरी के लिए नारेबाजी भी कि और कहा हि हमारा पीएम कैसा हो, गडकरी जैसा हो.

    कुल्लू में जैसे ही सीएम जयराम ठाकुर का हेलिकॉप्टर लैंड हुआ था तो एएसपी ब्रजेश सूद ने मैदान में धूल मिट्टी को लेकर एसपी से बहस की थी. इसका वीडियो भी सामने आया है, जिसमें एएसपी, एसपी के साथ कुछ बोल रहे हैं. बताया जा रहा है कि ऐसे में पहले से ही एसपी के साथ इस तरह का बर्ताव करने की वजह से गौरव सिंह आपा खो बैठे.



    गुस्साए सीएम जयराम ठाकुर
    दरअसल, कुल्लू एसपी की ओर से इन प्रभावितों को मौके पर आने दिया गया और जब प्रभावित अपनी बात गडकरी के सामने रख रहे थे तो सीएम जयराम ठाकुर भड़क गए. उन्होंने कहा कि लोग आराम से बात करें. जब दोबारा लोगों को सीएम ने तल्खी के साथ उंगुली दिखाई तो मौके पर एक शख्स बोल पड़े कि गुस्सा उन्हें भी आता है? फिर सीएम और गडकरी में बात हुई. लोगों ने कुल्लू की डीसी पर आरोप लगाया कि वह उनकी बात नहीं सुनती हैं.


    फिर कैसे बिगड़ी बात

    चर्चा है कि इसके बाद फिर सीएम ने अपने सिक्योरिटी इंचार्ज से नाराजगी जाहिर की कि फोरलेन प्रभावित यहां कैसे आ गए. इसी बात पर एएसपी ब्रजेश सूद एसपी कुल्लू से तल्ख लहजे में बोल पड़े. हालांकि, उन्होंने एसपी कुल्लू से क्या कहा, यह जानकारी नहीं मिली है. बाद में कुल्लू एसपी गौरव सिंह ने उन्हें थप्पड जड़ दिया. इसी क्रम में सीएम के पीएसओ बलबंत सिंह ने एसपी को दो बार लात मारी. तीनों को फिलहाल छुट्टी पर भेजा गया है. सूत्रों का कहना है कि मंत्री के पहुंचने से पहले जब उनका काफिला तैयार हुआ तो प्रोटोकॉल का हवाला देते हुए एसपी ने सिर्फ उस वाहन को शामिल करने की इजाजत दी, जिसमें मुख्यमंत्री बैठते थे. अन्य वाहनों को शामिल न करने पर पहले एसपी और सीएम सुरक्षा के अधिकारियों के  बीच बहस हो चुकी थी.

    एसपी के समर्थन में लोग
    मारपीट के दौरान एसपी के पक्ष में सड़क पर उतरे किसानों-बागवानों ने जब सीएम की सुरक्षा में तैनात कर्मियों से मारपीट का कारण पूछा तो कुछ लोगों ने उन्हें ही इस घटना का कारण बताया. वायरल वीडियो में हंगामे के दौरान एक फोरलेन प्रभावित किसान कह रहा है कि एसपी साहब को क्यों मार रहे हो, यह हंगामा सीएम के सुरक्षाकर्मियों की वजह से हो रहा है. हम आत्महत्या कर लेंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.