Private Bus Strike: हिमाचल में 3 मई से हड़ताल पर जाएंगे निजी बस संचालक!

हिमाचल में निजी बसों की हड़ताल.

हिमाचल में निजी बसों की हड़ताल.

Private Bus strike in Himachal: निजी ऑपरेटर संघ के अध्यक्ष रजत जमवाल ने कहा कि पिछले 8 माह से अपनी मांगों को लेकर गुहार लगा रहे हैं और सरकार बार-बार उन्हें बुलाती है, पर धरातल पर कुछ नहीं होता है. अगर हमारी मांगें नहीं मानी गईं, तो 3 मई से बेमुद्दत हड़ताल पर चले जाएंगे.

  • Share this:
कुल्लू. हिमाचल प्रदेश में निजी बस ऑपरेटर (Private Bus Operator) ने मांगों को लेकर डीसी कुल्लू के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है. साथ ही चेतावनी दी है कि टैक्स माफ करने समेत अगर उनकी अन्य मांगें नहीं मानी गई तो वह 3 मई से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे. दरअसल, हिमाचल प्रदेश के निजी बस ऑपरेटर पिछले 8 माह से अपनी मांगों को लेकर सरकार के पास लगातार गुहार लगाते आ रहे हैं तथा सरकार भी बार-बार आश्वासन दे रही है, लेकिन अभी तक इस पर कोई भी फैसला नहीं लिया गया है.

निजी बस आपरेटरों के मुताबिक ब बढ़ती महंगाई एवं सवारियां कम होने के कारण अधिकांश बसें खड़ी कर दी गईं है, इन दिनों केवल 10 से 15 फीसदी बसें प्रदेश में ही चल रही है. सरकार ने 15 अप्रैल 2021 को हिमाचल दिवस के मौके पर तीन माह का 50 प्रतिशत टैक्स माफ करने की घोषणा की थी,, जबकि पिछले 8 माह का टैक्स अभी भी बकाया है. बस ऑपरेटर की मांगों की में मुख्यरूप से टैक्स माफी एवं कार्यशील पूंजी को लागू करना है,

Youtube Video


सरकार कोई फैसला नहीं कर रही
बता दें कि सरकार बार-बार आश्वासन देने के लिए के बावजूद भी इस पर कोई फैसला नहीं ले रही है, हालांकि 25 मार्च 2021 को प्रधान सचिव परिवहन की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें फैसला लिया गया था कि अप्रैल माह की कैबिनेट बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा की जाएगी. लेकिन अभी तक इस मुद्दे पर कोई चर्चा नहीं की गई और ना ही इस पर कोई फैसला हुआ है. इसलिए निजी बस ऑपरेटर अपनी बसें खड़ी करने को मजबूर है.

मांगों को लेकर डीसी कुल्लू (DC Kullu) के माध्यम से मुख्यमंत्री (CM) को ज्ञापन भेजा है.


नहीं तो फिर होगी हड़ताल



निजी बस संचालकों ने 24 अप्रैल 2021 को वर्चुअल मीटिंग की और प्रदेश निजी बस ऑपरेटर की वर्चुअल माध्यम से हुई एक बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि सरकार ने अगर 8 दिन के अंदर सकारात्मक फैसला नहीं लिया तो हिमाचल निजी बस ऑपरेटर संघ के आह्वान पर निजी बस ऑपरेटर 3 मई 2021 से अपनी बसों का संचालन पूरी तरह से बंद कर देंगे.

धरातल पर कुछ नहीं हो रहा: संघ

निजी ऑपरेटर संघ के अध्यक्ष रजत जमवाल ने बताया कि उपायुक्त के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा गया है. उन्होंने कहा कि पिछले 8 माह से अपनी मांगों को लेकर सरकार के पास लगातार गुहार लगाते आ रहे हैं और सरकार बार-बार उन्हें बुलाती है, पर धरातल पर कुछ नहीं होता है. उन्होंने कहा कि अब निजी आपरेटरों ने निर्णय लिया है कि 1 सप्ताह के अंदर उनकी मांगों को नहीं माना जाता है तो वे 3 मई से अनिश्चित हड़ताल पर जाएंगे. 3 मई से पूर्ण रूप से सभी बसें की आवाजाही बंद कर देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज