Home /News /himachal-pradesh /

कुल्लू जिले में बाहरी मजदूरों और कामगारों को थाने में एक सप्ताह में कराना होगा पंजीयन

कुल्लू जिले में बाहरी मजदूरों और कामगारों को थाने में एक सप्ताह में कराना होगा पंजीयन

यूनुस,उपायुक्त, कुल्लू

यूनुस,उपायुक्त, कुल्लू

पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर आंतकी हमले के बाद हिमाचल प्रदेश के कुल्लू प्रशासन ने जिले में बाहरी राज्यों से आने वाले सभी प्रवासी मजदूर व कामगारों को एक सप्ताह के भीतर पंजीकरण कराने के निर्देश दिए हैं.

पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर आंतकी हमले के बाद हिमाचल प्रदेश के कुल्लू प्रशासन ने जिले में बाहरी राज्यों से आने वाले सभी प्रवासी मजदूर व कामगारों को एक सप्ताह के भीतर पंजीकरण कराने के निर्देश दिए हैं. कुल्लू के डीसी यूनुस ने अपने आदेश में कहा है कि सभी मकान मालिकों को एक सप्ताह के भीतर अपने किराएदारों का पंजीकरण करवाना अनिर्वाय है. गौरतलब है कि कुल्लू जिले में हजारों कश्मीरी प्रवासी मजदूर मजदूरी करते हैं और पूरे जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में फेरी लगाकर सामान बेचते हैं.

कुल्लू के उपायुक्त यूनुस ने एक आदेश में कहा कि जिले में कामकाज व आजीविका के लिए विदेशों तथा बाहरी राज्यों से आने वाले प्रवासी व्यक्तियों को संबंधित थाने में अपनी पहचान का पंजीकरण करवाना अनिवार्य है.

यूनुस ने कहा कि हर वर्ष प्रवासी व्यक्ति आजीविका के सिलसिले में जिले के विभिन्न भागों में आते हैं. जिला के लोगों को किसी प्रकार की असुरक्षा न हो और साथ ही किसी प्रकार शांति भंग हो, इसके लिए आवश्यक है कि प्रवासी कामगारों, रेहड़ी-फहड़ी वालों तथा गांवों में फेरी वालों का पंजीकरण उस थाने में अवश्य हो, जिसके अंतर्गत वे काम-काज करते हैं या रह-रहे हों.

उन्होंने कहा कि जिले के सभी मकान/दूकान मालिकों से भी उनके मकानों में रहने वाले ऐसे सभी प्रवासी व्यक्तियों को पुलिस थाना में पहचान का पंजीकरण करवाए बिना न रखने के आदेश दिए हैं.

यह भी पढ़ें: हिमाचल महिला पुलिस टीम पहली बार कबड्डी में लेगी भाग, प्रियंका करेंगी नेतृत्व

अब 100 हेक्टेयर क्षेत्र में उगने वाली फसल का भी बीमा होगा

Tags: Himachal pradesh, Kullu

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर