Rohtang Pass Opened: मनाली का रोहतांग पास बहाल, अब टूरिस्ट का इंतजार

रोहतांग पास को बहाल कर दिया गया है.

Rohtang Pass Open: हिमाचल में 30 मई से मौसम खराब होने का अनुमान है. इस दौरान फिर से बर्फबारी के आसार हैं. ऐसे में रोहतांग पास और ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी की संभावना बनी हुई है. हालांकि, बीते कुछ दिन से प्रदेश में पारा बढ़ने से गर्मी बढ़ी है.

  • Share this:
मनाली. हिमाचल प्रदेश के मनाली (Manali) में टूरिस्ट की पहली पसंद रोहतांग पास (Rohtang Pass) को बहाल कर दिया गया है. बीआरओ के जवानों की मेहनत रंग लाई है. बीआरओ ने 13050 फीट ऊंचे दर्रे के दोनों छोर जोड़ दिए हैं. दर्रे को अब पर्यटकों का इंतजार है. हालांकि, अटल टनल (Atal Tunnel) बनने के बाद कम संख्या में ही लोग रोहतांग दर्रे पर जाते हैं.

इससे पहले, सामरिक दृष्टि से अति महत्वपूर्ण मनाली-लेह मार्ग का यह रोहतांग दर्रा सभी के लिए महत्वपूर्ण था. लेकिन अटल टनल बनने से दर्रे की महत्ता कम हो गई है. समर सीजन के जून जुलाई महीने में सैलानी दर्रे में बर्फ के दीदार कर सकते है. जानकारी के अनुसार, बीआरओ की टीम ने शनिवार को दर्रे के दोनों छोर जोड़ गदिए हैं. हालांकि दर्रे पर अभी वाहनों की आवाजाही के लिए दो दिन लग सकते हैं.

लेह मनाली मार्ग भी खुला
बीआरओ ने इस बार सबसे पहले बारलाचा दर्रे को बहाल कर लेह को मनाली से जोड़ा था. फिर दूसरे नंबर पर कुंजुम जोत को बहाल किया और काजा से कनेक्टिविटी हुई. गुरुवार को बीआरओ ने शिंकुला दर्रे को बहाल कर कारगिल और मनाली को जोड़ दिया. बताया जा रहा है कि ग्राम्फू काजा मार्ग पर डोहरनी के पास पत्थर गिरने से अभी वाहनों की आवाजाही जोखिम भरी है. दारचा पदुम करगिल मार्ग पर भी अभी सफर सुरक्षित नहीं है.

फिर हो सकती है बर्फबारी
हिमाचल में 30 मई से मौसम खराब होने का अनुमान है. इस दौरान फिर से बर्फबारी के आसार हैं. ऐसे में रोहतांग पास और ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी की संभावना बनी हुई है. हालांकि, बीते कुछ दिन से प्रदेश में पारा बढ़ने से गर्मी बढ़ी है.