धर्मगुरू दलाई लामा के दर्शन के लिए देश और विदेश से उमड़ी भीड़

धर्मगुरू दलाई लामा के दर्शन के लिए उनके बौद्व अनुयायियों की भीड़ मनाली में उमड़ रही है.

Sachin Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 4:58 PM IST
Sachin Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 13, 2019, 4:58 PM IST
धर्मगुरू दलाई लामा इन दिनों पर्यटन नगरी मनाली के दौरे पर हैं. वे मनाली में 27 अगस्त तक रहेंगे. इस दौरान धर्मगुरू दलाई लामा के दर्शन के लिए उनके बौद्व अनुयायियों की भीड़ मनाली में उमड़ रही है. धर्मगुरू दलाई लामा के करीब नौ वर्षों के बाद मनाली पंहुचे हैं. ऐसे में दलाई लामा के मनाली आने से बौद्व अनुयायियों में भी खुशी का माहौल है. धर्मगुरू दलाई लामा के मनाली पंहुचने से पूरी पर्यटन नगरी मनाली पुलिस छावनी में तब्दील हो गयी हैं. धर्मगुरू दलाई लामा के दर्शन के लिए भारत के अलग अलग स्थानों से लोग मनाली आ रहे हैं. इतना ही नहीं उनसे मिलने के लिए उनके अनुयायी विदेशों से भी मनाली पंहुच रहे हैं. इसी कड़ी में मंगलवार को धर्मगुरू दलाई लामा ने बौद्ध धर्म के बारे में अपने अनुयायियों को प्रवचन दिए.

'आपकी धार्मिकता में प्यार, करूणा और भाईचारा जरूर शामिल हो'

dalai lama-दलाई लामा
दलाई लामा के दर्शन करने और उनके प्रवचन सुनने विदेशों से भी अनुयायी मनाली पंहुच रहे हैं.


दलाई लामा ने कहा कि हमें सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए. उन्होंने कहा कि आप किसी भी धर्म को मानने वाले हो सकते हैं लेकिन आपकी धार्मिकता में प्यार, करूणा और भाईचारा जरूर शामिल होना चाहिए. अपने प्रवचनों में दलाई लामा ने कहा कि बुराई के मार्ग को छोड़ कर अच्छाई का मार्ग अपनाना चाहिए.

27 अगस्त तक मनाली में रहेंगे दलाई लामा

धर्मगुरू दलाई लामा के प्रवचन को सुनने के लिए आये बौद्व अनुयायियों का कहना है कि उन्हें यहां पर आकर धर्मगुरू के दर्शन करने और उनके प्रवचनों को सुनने का भी मौका मिला. उन्होंने कहा कि धर्मगुरू दलाईलामा 27 अगस्त तक मनाली में रहेंगे इस दौरान वह आज से 15 अगस्त तक मनाली में बौद्व अनुयायियों को अपना आर्शीवाद देंगे.

यहां भी पढ़ें: हिमाचल में मॉनसून: एक माह में पानी में बहे 364 करोड़ रुपये
Loading...

BREAKING: लेह-लद्दाख की ओर जा रहे पेट्रोल से भरा टैंकर 100 फीट गहरी खाई में गिरा, ड्राइवर की मौत
First published: August 13, 2019, 4:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...