हिमाचल प्रदेश में मानसून हुआ सक्रिय, नदी-नाले उफान पर

हिमाचल प्रदेश में मानसून ने दस्तक दी है और प्रदेश में झमाझम बारिश हो रही है. घाटी के नदी- नाले उफान पर हैं. प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है.

News18 Himachal Pradesh
Updated: July 13, 2019, 5:51 PM IST
News18 Himachal Pradesh
Updated: July 13, 2019, 5:51 PM IST
 

हिमाचल प्रदेश में मानसून ने दस्तक दे दी है और पूरे राज्य में झमाझम बारिश हो रही है. इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने जनता को अलर्ट जारी किया है और नदी- नालों के आसपास न जाने की हिदायत दी है क्योंकि उनके जलस्तर में कभी भी बढ़ोतरी हो सकती है.



प्रशासन ने किया अलर्ट जारी, rain alert
कुल्लू जिले में मानसून ने दी दस्तक, प्रशासन ने किया अलर्ट जारी


पर्यटन नगरी मनाली में जमकर हो रही बारिश, नदी नाले उफान पर

पर्यटन नगरी मनाली और इसके आस- पास के क्षेत्रों में जमकर बारिश हो रही है. मनाली समेत पूरा इलाका ठंड की चपेट में आ गया है. घाटी में हो रही बारिश से नदी-नाले भी उफान पर हैं. नदी- नालों में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन ने भी अब पर्यटकों को नदी नालों से दूर रहने की हिदायत दी है. घाटी में बदले मौसम की वजह से पहाड़ों पर चालकों को वाहन चलाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. प्रशासन ने रोहतांग, केलांग और लेह जाने वाले पर्यटकों को मौसम को ध्यान में रख कर ही दर्रे को पार करने की सलाह दी है.

प्रशासन ने किया अलर्ट जारी, rain alert
मनाली के नदी नाले पुरे उफान पर है, प्रशासन ने पर्यटकों से मौसम को ध्यान में रख कर ही सफर करने का आग्रह किया  है.


 
Loading...

औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ में भी तेज बारिश ने ढाया कहर

औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ में बीती रात से हो रही बारिश के कारण क्षेत्र की ज्यादातर नदियां उफान पर आ गई हैं. औद्योगिक क्षेत्र नालागढ़ के गांव ढांग व ढाड़ी कनियां गांव के दर्जनों घरों में दो-दो फीट बारिश का पानी घुस गया है. जिसके चलते ग्रामीणों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. लोग घरों से बाहर निकल चुके हैं. लोगों ने स्थानीय प्रशासन से समस्या से निजात दिलाने की मांग की है.

प्रशासन ने किया अलर्ट जारी, rain alert
 लोगों ने स्थानीय प्रशासन से गुहार लगाई है कि सड़क के दोनों ओर  पक्की नालियां बनाई जाएं ताकि बारिश का पानी की निकासी हो सके.


नालागढ़ के ढांग गांव में बारिश के कारण टूटी पुलिया

 

नालागढ़ के गांव ढांग में कुछ ही दिन पहले एक पुलिया का निर्माण स्थानीय पंचायत के स्तर से कराया गया था लेकिन जैसे ही बीती रात से बारिश होनी शुरू हुई तो पुलिया टूट गई. पुलिया टूटने के बाद स्थानीय ग्रामीण पंचायत प्रधान पर घोटाले के गंभीर आरोप लगा रहे हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि पंचायत प्रधान द्वारा पुलिया के निर्माण में घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जिसके चलते पुलिया पहली बारिश भी नहीं सह पाई और वह टूट गई.

(कुल्लू से संवाददाता तुलसी भारती, नालागढ़ से जगत सिंह के साथ मनाली से संवाददाता सचिन शर्मा की  रिपोर्ट )

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...