मनाली में जोरदार बारिश, पुख्ता इंतजाम के चलते नहीं हुआ अबतक कोई नुकसान
Manali News in Hindi

नदी नालों में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन ने पर्यटकों को नदी नालों से दूर रहने के आदेश दिए हैं.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश की पर्यटन नगरी मनाली व इसके आस पास के क्षेत्रों में बीते तीन-चार दिनों से जमकर बरसात हो रही है. घाटी में रोजाना शाम के समय हो रही बारिश से तापमान में गिरावट देखी जा रही है. घाटी में ठंड लौट आई है. घाटी में बारिश से नदी नाले भी अपने पूरे उफान पर हैं. घाटी में लगातार हो रही बारिश से नदी नालों के जलस्तर में वृद्वि देखी जा रही है. ऐसे में नदी नालों में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन ने पर्यटकों को नदी नालों से दूर रहने के आदेश दिए हैं.  मनाली में झमाझम बारिश के बावजूद किसी भी तरह के जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है.

इन रूटों पर है भूस्खलन और पत्थर गिरने का खतरा

Heavy rain-भारी बारिश
बारिश के चलते सोलंग गांव को मनाली शहर से जोड़ने वाला अस्थायी पुल बह गया है. इसके अलावा घाटी में अभी तक किसी तरह का कोई जानमाल का नुकसान घाटी में नही हुआ है.




बारिश के चलते सोलंग गांव को मनाली शहर से जोड़ने वाला अस्थायी पुल बह गया है. इसके अलावा घाटी में अभी तक किसी तरह का कोई जानमाल का नुकसान घाटी में नही हुआ है. मनाली में रोजाना हो रही बारिश से कई स्थानों पर पहाड़ी से भूस्खलन ओर पत्थरों के गिरने का खतरा बना हुआ है. ऐसे में चंडीगढ़ से मनाली ओर मनाली से लेह हाईवे पर सफर करना खतरे से खाली नही हैं.
'एक पुल बहा है, जल्द ही बनवा देंगे'

वहीं मनाली के एसडीएम अमित गुलेरिया ने बरसात के मौसम में हुए नुकसान के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मनाली व इसके आस पास के क्षेत्रों में फिलहाल किसी तरह का कोई नुकसान नही हुआ है. उन्होंने कहा कि एक पुल बहा है, उसे भी जल्द ठीक करवा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि उन्होंने सभी अधिकारियों को बरसात के मौसम में सर्तक रहने के आदेश भी दिए हैं.

बारिश का फायदा सेब को मिलेगा

मनाली के स्थानीय लोगों का कहना है कि अब तक जो बारिश घाटी में हुई है, इससे उन्हें अभी तक किसी तरह कोई नुकसान नही हुआ है. लोगों का कहना है कि अभी हो रही बारिश का फायदा सेब को मिलेगा.

यह भी पढ़ें: फिर भड़की धवाला की ज्वाला, कहा-हमारे तालमेल में घी डालने का काम बंद करें

 सोलन में 43.37 ग्राम चिट्टे के साथ तीन युवक गिरफ्तार

देहरा का बड़ा गांव काटेगा 6 महीने काले पानी की सज़ा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज