कुल्लू दशहरा उत्सव: मनाली से ढालपुर के लिए रवाना हुई माता हिडिम्बा

मनाली से निकली माता हडिम्बा.
मनाली से निकली माता हडिम्बा.

Kullu Dusshera Festival: हिडिम्बा माता के कारदार रद्युवीर नेगी ने बताया की इस बार कोरोना वायरस के कारण माता के साथ उन्हीं लोगो को कुल्लू दशहरे में जाने की अनुमति दी गई है, जिनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 2:24 PM IST
  • Share this:
मनाली. हिमाचल प्रदेश के कुल्लू (Kullu) जिले में सप्रसिद्ध दशहरा उत्सव (Dusshera) का रविवार से आगाज होगा. इसी कड़ी में शनिवार को मां हडिम्बा मनाली से कुल्लू (Kullu) के लिए रवाना हुई हैं. दशहरा में घाटी (Valley) के सभी देवी-देवता भाग लेते हैं और इस महाकुम्भ में सबकी अहम भूमिका है. लेकिन पर्यटन नगरी मनाली की आराध्य देवी माता हिडिम्बा (Hidimba) का दशहरा उत्सव में सबसे अहम रोल है और उनके पहुंचने के बाद बी दशहरा का आगाज होता है. माता हिडिम्बा राजघराने की दादी हैं.

मनाली से निकली माता
देव महाकुम्भ के लिए देवी हिडिम्बा अपने कारकूनों और हरियानों के साथ दशहरे में भाग लेने के लिए अपने स्थान मनाली से निकल पड़ी हैं. हालांकि, इस बार कुल्लू दशहरा पर भी कोरोना वायरस का असर साफ देखा जा रहा है. सिर्फ सात ही देवी-देवाताओं को ही दशहरा में आने अनुमति है. सभी हरयानों और कारकूनों का कोरोना टेस्ट भी लिया गया और जिन लोगों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है उन्हें ही माता के साथ जाने की अनुमति दी गई है.

ढालपुर के लिए निकली माता हडिम्बा.

क्या बोले कारदार


हिडिम्बा माता के कारदार रद्युवीर नेगी ने बताया की इस बार कोरोना वायरस के कारण माता के साथ उन्हीं लोगो को कुल्लू दशहरे में जाने की अनुमति दी गई है, जिनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव है. कोरोना वायरस के कारण कुल्लू दशहरे को सूक्ष्म तरीके से मनाया जा रहा है. जो भी दिशा-निर्देश सरकार ने दिए हैं, उनका पालन किया जा रहा है. भगवान रघुनाथ जी की रथयात्रा में भी 15 लोगों को ही अनुमति दी गई है.

कल ढालपुर मैदान पहुंचेंगी मा हडिम्बा
रविवार प्रात: देवी हिडिम्बा कुल्लू पंहुचेगी. वहां पर भगवान रघुनाथ जी की छडी माता को लेने के लिए रामशिला नामक स्थान पर लाई जाएगी, जंहा से फिर माता भगवान रघुनाथ के मन्दिर के प्रस्थान करेंगी. माता के वहां पर पूरे रिति-रिवाज से पूजा के बाद भगवान रघुनाथ मन्दिर से बाहर आएंगे. फिर भगवान रघुनाथ और सभी देवी-देवता रथ के साथ रवाना होंगे और शोभायात्रा आरम्भ होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज