होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /मनालीः फ्रेंडशिप पीक पर लापता आशुतोष की तलाश के लिए अब 6 माह का इंतजार, सर्च अभियान बन्द

मनालीः फ्रेंडशिप पीक पर लापता आशुतोष की तलाश के लिए अब 6 माह का इंतजार, सर्च अभियान बन्द

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के मनाली में फ्रेंडशिप पीक पर हिमस्खलन की चपेट में आए आशुतोष का पता नहीं चल पाया है.

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के मनाली में फ्रेंडशिप पीक पर हिमस्खलन की चपेट में आए आशुतोष का पता नहीं चल पाया है.

Friendship Peak Manali: 17 नवंबर 2022 को शिमला के चौपाल के देहा का युवक आशुतोष अपने दो साथियों के साथ फ्रेंडशिप पीक की ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

प्रशासन ने मौसम खराब होने की आशंका के चलते सर्च अभियान भी बन्द कर दिया.
17 नवंबर 2022 को शिमला के चौपाल के देहा का आशुतोष दो साथियों के साथ फ्रेंडशिप पीक की चढ़ाई के निकला था.

मनाली. हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले के मनाली में फ्रेंडशिप पीक पर हिमस्खलन की चपेट में आए आशुतोष का पता नहीं चल पाया है. 13 दिन की तलाश के बाद अब तक आशुतोष का कोई सुराग नहीं मिला है और ऐसे में अब सर्च ऑपरेशन बंद कर दिया गया है. अब अगले साल गर्मियों में मई या जून में युवक की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू किया जाएगा. बता दें कि शिमला के चौपाल का युवक आशुतोष 19 नवंबर 2022 को हिमस्खलन की चपेट में आने के बाद लापता हो गया था.

शुक्रवार को प्रशासन ने मौसम खराब होने की आशंका के चलते सर्च अभियान भी बन्द कर दिया है. फ्रेंडशिप पीक पर सर्च अभियान में अटल बिहारी वाजपेयी पर्वतरोहण सहित एडवेंचर टूअर ओपरेटर एसोसिएशन कुल्लू मनाली की टीम,  सेना की डोगरा स्काउट, आईटीबीपी की टीम और तिरंगा टीम ने हिस्सा लिया. लेकिन 13 दिन की तलाश के बाद सभी टीमों को नाकामी हाथ लगी.

हेलिकॉप्टर, ड्रोन से भी नाकामी

युवक की तलाश के लिए हेलिकॉप्टर और ड्रोन के अलावा, अत्याधुनिक सयंत्रों की भी मदद ली गई, लेकिन आशुतोष का कुछ पता नहीं चल पाया. कई टीमों ने इलाके की खाक छानी. हालांकि, तलाशी अभियान के दौरान मौके से एक हेलमेट जरूर मिला था. मनाली के एसडीएम डॉ. सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि मौसम खराब हो रहा है और ऊंचे इलाकों में बर्फबारी होने लगी है. ऐसे में सर्च ऑपरेशन चलाना जोखिम भरा है. हालात देखते हुए सर्च ऑपरेशन रोक दिया गया है. रेस्कयू टीमों को वहां से लौटने के लिए कहा गया है. गर्मियों में बर्फ पिघलने के बाद पुनः सर्च ऑपरेशन चलाया जा सकता है.

कैसे हुआ हादसा

17 नवंबर 2022 को शिमला के चौपाल के देहा का युवक आशुतोष अपने दो साथियों के साथ फ्रेंडशिप पीक की चढ़ाई के निकला था. 19 नंबवर को हादसे के बाद उसके दोनों साथी वापस मनाली पहुंचे और पुलिस से मदद मांगी. 20 नवंबर को एचएचओ मनाली की अगुवाई में एडवेंचर टूर ऑपरेटर एसोसिएशन का रेस्क्यू दल मौके के लिए गया, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लगा. रेको एवलांच डिटेक्टर के साथ एवलांच रॉड का सहारा लिया गया, किन्तु इसके बावजूद भी युवक का सुराग नहीं लग पाया था.

Tags: Kullu Manali News, Manali Leh Road, Shimla News, Snowfall in Himachal

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें