राजीव की मौत के बाद बहन ने कहा-'मेरे भाई ने जहर नहीं खाया उसे खिलाया गया है'
Mandi News in Hindi

राजीव की मौत के बाद बहन ने कहा-'मेरे भाई ने जहर नहीं खाया उसे खिलाया गया है'
मृतक राजीव की बहन सावित्री

राजीव कुमार की मौत के मामले में परिजनों ने एक महिला पर संदेह जताया है. परिजनों का कहना है कि राजीव ने खुद जहर नहीं खाया बल्कि उसे जहर खिलाया गया है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के धर्मपुर थाने में आने वाले डरवाड़ गांव निवासी राजीव कुमार की मौत के मामले में परिजनों ने एक महिला पर संदेह जताया है. परिजनों का कहना है कि राजीव ने खुद जहर नहीं खाया बल्कि उसे जहर खिलाया गया है. मृतक राजीव की बहन सावित्रि देवी का कहना है कि उसके भाई ने उसे फोन करके बताया था कि उसे जहर खिलाया गया है.

सावित्री ने पुलिस से इस घटना के सिलसिले में बातचीत के कॉल रिकार्ड को सामने लाने की मांग उठाई है. परिजनों का कहना है कि राजीव की पत्नी 11 वर्ष पहले लापता हो गई थी और वह बीते कुछ वर्षों से एक महिला के साथ रह रहा था. लेकिन बीते कुछ महीने से उक्त महिला इसके साथ नहीं रह रही थी.

इसी बीच बीते शनिवार को राजीव के जहर खाने की बात सामने आई और उसे सरकाघाट लाया गया और उसकी हालत ठीक नहीं होने की वजह से उसे मंडी भेज दिया गया है. यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. अब परिजनों ने उक्त महिला पर ही संदेह जाहिर किया है.



मृतक की भांजी रजनी देवी का कहना है कि उन्होंने इस बारे में पुलिस को भी जानकारी दी लेकिन पुलिस इस मामले की सही ढंग से पड़ताल नहीं कर रही है. इन्होंने मामले की सही और निष्पक्ष जांच की मांग उठाई है.
मंडी जिला के एसपी मंडी गुरदेव चंद शर्मा ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम करवाकर बिसरा एफएसएल जांच के लिए भेजा गया है और रिपोर्ट के आने का इंतजार किया जा रहा है. उन्होंने माना कि परिजनों ने एक महिला पर संदेह जाहिर किया है और उस आधार पर भी पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है.

उन्होंने कहा कि जो भी तथ्य सामने आएंगे उस आधार पर कार्रवाही की जाएगी. अभी सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाही की जा रही है और डीएसपी सरकाघाट खुद मामले को देख रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज