कोटरोपी घटना स्थल पर सेना पहुंची, सीएम ने की 4-4 लाख रुपये देने की घोषणा

ETV Haryana/HP
Updated: August 13, 2017, 7:25 PM IST
कोटरोपी घटना स्थल पर सेना पहुंची, सीएम ने की 4-4 लाख रुपये देने की घोषणा
एचआरटी की दुघर्टनाग्रस्त बस को क्रेन की सहायता से मलबे से निकाला गया
ETV Haryana/HP
Updated: August 13, 2017, 7:25 PM IST
हिमाचल प्रदेश में पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय राजमार्ग में पधर के कोटरोपी पर हुए भारी लैंडस्लाइड में आज शाम सात बजकर बीस मिनट तक 18 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है. इसमें तीन लोगों की अबतक पहचान की जा सकी है. ये हैं. जोगिंदर नगर के सुरुचि ठाकुर, सरकाघाट की नेहा व गुम्मा के तारा चन्द ठाकुर.अभी 4 अन्य मृतकों की शिनाख्त नहीं हो पाई है.

फिलहाल, हादसे में घायलों में पांच लोग मंडी क्षेत्रीय अस्पताल में उपचाराधीन है, जिनमें करसोग की 20 वर्षीय मंजू, शिमला की शुभम (21 वर्ष), सुचित्रा (19 वर्ष) और ब्यूटी शर्मा (18 वर्ष) व अनीता (23 वर्ष) जोगिंदर नगर शामिल है. घायलों को बचाने के लिए चलाया गया रेस्कयू ऑपरेशन फिलहाल जारी है.

शनिवार की देर राते में एचआरटीसी की दो बसें कोटकरूपी में यात्रियों के चाय व पानी के लिए रुकी थीं. इसके अलावा, कई अन्य वाहन भी यहां पर खड़ा था. एचआरटीसी की बसों में एक कटड़ा-मनाली की ओर जा रही थी, जबकि दूसरी बस चंबा से मनाली की ओर जा रही थी. बस  चालक ने मलबा आता देख सवारियों को भागने को कहा, लेकिन लोग जब तक संभल पाते तब तक वे एक-एक करके मलबे में दबते चले गए.

इस हादसे में एचआरटी की दो बसें भी चपेट में आई हैं. परिवहन मंत्री ने इसकी पुष्टि की. सीएम घटनास्थल की ओर रवाना हो रहे हैं. उन्होंने मृतकों के परिजनों को 4-4लाख रुपए की आर्थिक ऐलान करने की घोषणा कर दी है.

हादसा स्थल पर पालमपुर से 9 ग्रेडेनियर के जवान तथा इसके साथ ही एनडीआरएफ जवान भी मौके पर पहुंच चुके हैं.
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर