Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल में गाड़ियों की पासिंग के नाम पर ली जा रही थी रिश्वत, MVI समेत 3 गिरफ्तार

हिमाचल में गाड़ियों की पासिंग के नाम पर ली जा रही थी रिश्वत, MVI समेत 3 गिरफ्तार

मंडी में गाड़ियों की पासिंग के नाम पर रिश्वत मांगने वाले एमवीआई समेत 3 आरोपियों को विजिलेंस ने गिरफ्तार किया है.

मंडी में गाड़ियों की पासिंग के नाम पर रिश्वत मांगने वाले एमवीआई समेत 3 आरोपियों को विजिलेंस ने गिरफ्तार किया है.

Himachal News: स्टेट विजिलेंस ब्यूरो के मुताबिक कुछ समय पहले शिकायत मिली थी कि जिले में वाहनों की पासिंग और लाइसेंस जारी करने के नाम पर अवैध वसूली हो रही है. इसको देखते हुए ब्यूरो ने आरोपी एमवीआई और अन्य लोगों पर लगातार निगरानी रखना शुरू किया. मौका मिलते ही दबिश देकर सभी को गिरफ्तार कर लिया. जांच एजेंसी मामले की गंभीरता से छानबीन कर रही है और इससे जुड़े अन्य पहलुओं को भी खंगाला जा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी RTO के कार्यालय में तैनात MVI रिश्वत लेकर गाड़ियों की पासिंग करता था और लाइसेंस बनाने की एवज में भी रिश्वत लेता था. इस संदर्भ में विजिलेंस को काफी शिकायतें मिल चुकी थी. विजिलेंस की टीम काफी लंबे समय से उक्त एमवीआई पर नजर बनाए हुए थी. पिछले कल जिला के कंसा चौक में गाड़ियों की पासिंग और लाइसेंस बनाने के नाम पर ली गई रिश्वत के साथ विजिलेंस एमवीआई और उसके दो अन्य साथियों को सुंदरनगर से धर दबोचा.

इसकी जानकारी खुद विजिलेंस की तरफ से जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में दी गई है. पकड़े गए एमवीआई का नाम अभिषेक शर्मा है, जबकि उसके साथ पकड़े गए दो अन्य आरोपियों के नाम प्रीतम और विनोद कुमार हैं. तीनों को ही विजिलेंस ने गिरफ्तार करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है. तीनों आरोपियों के पास से 1.13 लाख रुपये कैश बरामद किया गया है.

विजिलेंस टीम पता लगाने में जुटी कब से चल रहा थी घूसखोरी 

कल की गई इस कार्रवाई के बाद आज विजिलेंस ने एमवीआई के हमीरपुर स्थित निवास पर भी छापेमारी की है. विजिलेंस अब इस बात का पता लगाने में जुटी है कि एमवीआई रिश्वत के इस धंधे को कब से चला रहा था और रिश्वत से उसने कितनी संपत्ति अर्जित की है. जांच जारी है.

कार्रवाई के दौरान विजिलेंस टीम ने एमवीआई अभिषेक शर्मा, उसके साथी प्रीतम और विनोद कुमार से गाड़ियों के लाइसेंस बनाने और पासिंग के नाम पर बतौर रिश्वत ली गई करीब 1 लाख 13 हजार 120 रुपये की रकम बरामद की है.

विजिलेंस ने पहले निगरानी की, इसके बाद दबोचा 

स्टेट विजिलेंस ब्यूरो के मुताबिक कुछ समय पहले शिकायत मिली थी कि जिले में वाहनों की पासिंग और लाइसेंस जारी करने के नाम पर अवैध वसूली हो रही है. इसको देखते हुए ब्यूरो ने आरोपी एमवीआई और अन्य लोगों पर लगातार निगरानी रखना शुरू किया. मौका मिलते ही दबिश देकर सभी को गिरफ्तार कर लिया. जांच एजेंसी मामले की गंभीरता से छानबीन कर रही है और इससे जुड़े अन्य पहलुओं को भी खंगाला जा रहा है.

आपके शहर से (मंडी)

मंडी
मंडी

Tags: Bribery, Himachal Police, Himachal pradesh, Mandi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर