Home /News /himachal-pradesh /

brother gifted two stem labs to sister on rakshabandhan in mandi nodbk

रक्षाबंधन पर भाई ने बहन को ऐसा गिफ्ट दिया कि पूरे प्रदेश में हो रही है चर्चा, जानें क्या है खास?

उन्होंने बताया कि बच्चों को गुणात्मक शिक्षा देने में इस प्रकार की लैब्स काफी सहायक सिद्ध होती है.

उन्होंने बताया कि बच्चों को गुणात्मक शिक्षा देने में इस प्रकार की लैब्स काफी सहायक सिद्ध होती है.

Himachal News: इस मौके पर रितिका जिंदल ने बताया कि उन्होंने आओ चलें गांव की ओर कार्यक्रम के दौरान टांडू पंचायत का दौरा किया था. जिसके बाद उन्होंने यहां के बच्चों की प्रतिभा को देखते हुए अपने बड़े भाई एमके यादव जो कि पंजाब से हैं और देश ही नहीं विदेशों में भी इस प्रकार की लैबस का निर्माण करते हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

इस लैब में बच्चों को रोबोटिक टूल किट भी उपलब्ध करवाई जाती है ताकि बच्चे रोबोट बनाने का ज्ञान भी हासिल कर सकें.
उन्होंने कहा कि बच्चों को बेहतर शिक्षा देकर देश आगे बढ़ेगा जिसमें सभी को सहयोग करना चाहिए.
इस मौके पर उन्होंने विधिवत रूप से स्टेम लैब का शुभारंभ किया.

मंडी. एक बहन ने भाई से बच्चों की बेहतर पढ़ाई के लिए दो स्कूलों के लिए लाखों की लागत की स्टेम लैब मांगी और भाई ने भी रक्षाबंधन के पावन दिवस पर लैब भेंट कर दी. अब मंडी जिला के सदर उपमंडल के दो स्कूलों के बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के मॉडल का थ्रीडी अवलोकन कर उनका बारिकी से अध्ययन करने का अवसर मिलेगा. वीरवार को एमकेआई सोल्युशन की तरफ से टांडू स्कूल में एक लैब का शुभारंभ किया गया. शुभांरभ मौके पर एसडीएम सदर रितिका जिंदल व उनके बड़े भाई एमके यादव विशेष रूप से मौजूद रहे. इस मौके पर उन्होंने विधिवत रूप से स्टेम लैब का शुभारंभ किया.

इस मौके पर रितिका जिंदल ने बताया कि उन्होंने आओ चलें गांव की ओर कार्यक्रम के दौरान टांडू पंचायत का दौरा किया था. जिसके बाद उन्होंने यहां के बच्चों की प्रतिभा को देखते हुए अपने बड़े भाई एमके यादव जो कि पंजाब से हैं और देश ही नहीं विदेशों में भी इस प्रकार की लैबस का निर्माण करते हैं. उनसे इस बार रक्षा बंधन पर सदर उपमंडल में फ्री में दो स्टेम लैब्स स्थापित करने का गिफ्ट मांगा. जिसके बाद आज राखी के पावन दिवस पर एक लैब का शुभारंभ किया.

इस प्रकार की लैब्स काफी सहायक सिद्ध होती है
उन्होंने बताया कि बच्चों को गुणात्मक शिक्षा देने में इस प्रकार की लैब्स काफी सहायक सिद्ध होती है. उन्होंने बताया कि लैब में बच्चे रोबोटिक्स का ज्ञान भी हासिल कर सकते हैं. वहीं, इस मौके पर रितिका जिंदल के भाई एमके यादव ने बताया कि उन्हें गर्व है कि उनकी छोटी बहन ने रक्षा बंधन पर इस प्रकार का गिफ्ट मांगा जो बच्चों की बेहतर पढ़ाई में सहायक होगा. उन्होंने कहा कि बच्चों को बेहतर शिक्षा देकर देश आगे बढ़ेगा जिसमें सभी को सहयोग करना चाहिए.

बच्चे रोबोट बनाने का ज्ञान भी हासिल करेंगे
इस मौके पर स्थानीय पंचायत प्रधान व लोगों ने उनके स्कूल में इस प्रकार की आधुनिक लैब लगाने के लिए दानकर्ता व एसडीएम सदर रितिका जिंदल का आभार भी जताया. बता दें कि स्टेम एजुकेशन सिस्टम के द्वारा विज्ञान, तकनीक तथा गणित विषय को विद्यार्थियों की योग्यता एवं रुचि के अनुसार रोचक तरीके से सिखाया जाता है. इसके साथ ही लैब में कई प्रकार के थ्रीडी मॉडल होते हैं जिससे चीजों को बारीकी से समझा जा सकता है. जिसमें बायोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री शामिल है. इसके साथ ही इस लैब में बच्चों को रोबोटिक टूल किट भी उपलब्ध करवाई जाती है ताकि बच्चे रोबोट बनाने का ज्ञान भी हासिल कर सकें.

Tags: Himachal news, Mandi news, Raksha bandhan

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर