सुखराम परिवार और कौल सिंह पर बरसे CM, कहा-ठेठ सराजी हूं, ज्यादा मत छेड़ो, जिन्होंने छेड़ा वो आजकल वृंदावन में हैं

सीएम जयराम ठाकुर, पंडित सुखराम औरकांग्रेस नेता कौल सिंह.

सीएम जयराम ठाकुर, पंडित सुखराम औरकांग्रेस नेता कौल सिंह.

CM Jairam Thakkur Attacks Sukhram Family: जयराम ठाकुर ने सुखराम परिवार पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि मंडी को मिले मान-सम्मान का अपमान करने का परिणाम सुखराम परिवार भुगत चुका है और यदि यही हाल रहा तो कौल सिंह भी यही परिणाम भुगतेंगे.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कौल सिंह ठाकुर सहित अन्य कांग्रेसी नेताओं को खाल में रहने की नसीहत दी है. हिमाचल दिवस (Himachal Day) पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह के बाद द्रंग विधानसभा क्षेत्र के हरडगलू में आयोजित एक अन्य जनसभा में सीएम जयराम ठाकुर कौल सिंह ठाकुर सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं पर जमकर बरसे. वहीं उन्होंने सुखराम परिवार (Sukhram Family) को भी फिर से आड़े हाथ लिया. जयराम ठाकुर ने कहा कि वे ठेठ सराजी हैं और उन्हें ज्यादा मत छेड़ो, जिन्होंने छेड़ा वो आजकल वृंदावन में हैं. यह ईशारा उन्होंने सुखराम परिवार पर किया, जिन्हें हालही में नगर निगम चुनावों में करारी हार का सामना करना पड़ा है.

जयराम ठाकुर ने कहा कि कौल सिंह ठाकुर को द्रंग क्षेत्र में हो रहा विकास नजर नहीं आता, जबकि सिर्फ सराज और धर्मपुर में ही विकास के आरोप लगा रहे हैं. उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश में कांग्रेस का कोई नेता ऐसा नहीं जिसके उपर भ्रष्टाचार के आरोप न लगे हों, इसलिए कांग्रेसी नेताओं को ज्यादा न बोलते हुए खाल में रहने की जरूरत है.

Youtube Video


सुखराम परिवार पर साधा निशाना
जयराम ठाकुर ने सुखराम परिवार पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि मंडी को मिले मान-सम्मान का अपमान करने का परिणाम सुखराम परिवार भुगत चुका है और यदि यही हाल रहा तो कौल सिंह भी यही परिणाम भुगतेंगे. उन्होंने कहा कि यदि उनके स्थान पर कौल सिंह ठाकुर को यह मान-सम्मान मिला होता तो वह इसकी कद्र करते, लेकिन कौल सिंह ठाकुर और जिला के अन्य कांग्रेसी नेता ऐसा नहीं कर रहे हैं. जयराम ठाकुर ने कहा कि मंडी की जनता अब किसी को माफ करने वाली नहीं है.

विधायक भी गुस्साए

इससे पहले, द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर ने भी जमकर कौल सिंह ठाकुर पर अपना राजनैतिक गुब्बार निकाला. उन्होंने कहा कि कौल सिंह ठाकुर का राजनैतिक गोत्र कम्युनिस्ट है और उन्होंने अपनी सुविधा के अनुसार पार्टियां बदली हैं. उन्होंने कहा कि कौल सिंह न तो सुखराम के हुए और न ही वीरभद्र सिंह के, तो ऐसे में द्रंग की जनता के कैसे हो सकते हैं. वहीं, उन्होंने कौल सिंह ठाकुर को एक बार फिर से विकास के मामले पर खुले मंच पर बहस की चुनौती भी दी. इससे पहले उन्होंने द्रंग क्षेत्र के लिए 50 करोड़ से अधिक की योजनाओं के 13 उदघाटन और शिलान्यास भी किए. वहीं उन्होंने करोड़ों की घोषणाएं भी की. समारोह में जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर सहित अन्य विधायक और भाजपा नेता भी मौजूद रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज