अपना शहर चुनें

States

Himachal Panchayat Elections: हर बार अलग वार्ड, रिकॉर्ड चौथा चुनाव जीतीं कौल सिंह की बेटी चंपा ठाकुर

कांग्रेस के नेता कौल सिंह ठाकुर की बेटी चंपा ठाकुर.
कांग्रेस के नेता कौल सिंह ठाकुर की बेटी चंपा ठाकुर.

Himachal Panchayat Elections: मंडी जिले में चंपा ठाकुर को छोड़कर दूसरा कोई प्रत्याशी नहीं है जो लगातार चौथी बार जिला परिषद के लिए चुना गया हो. खासकर हर बार अलग-अलग वार्ड से चुनाव लड़ा और जीता हो. इसी आधार पर चंपा ठाकुर (Champa Thakur) ने पंचायत चुनावों में बनाया रिकॉर्ड.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 8:06 AM IST
  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी (Mandi) जिले से कांग्रेस पार्टी के लिए अच्छी खबर है. पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस के दिग्गज नेता कौल सिंह ठाकुर (Kaul Singh Thakur) की बेटी चंपा ठाकुर ने जिला परिषद के चुनावों में लगातार चौथी बार जीत दर्ज करके नया रिकार्ड कायम किया है. रिकार्ड इस बात को लेकर भी बन रहा है कि चंपा ठाकुर ने अब तक जिला परिषद के जितने भी चुनाव लड़े, वह सभी सदर क्षेत्र के अलग-अलग वार्डों से लड़े और किसी में भी उन्हें हार का मुंह नहीं देखना पड़ा.

मंडी जिला (Mandi News) के सदर क्षेत्र के तहत जिला परिषद के चार वार्ड आते हैं और चंपा यहां के तीन वार्डों से बतौर जिला परिषद चुनकर आ चुकी हैं. एक बार जिला परिषद की अध्यक्षा भी रहीं. 2017 में कांग्रेस के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ा, लेकिन काफी कम अंतराल से पराजय मिली. इस बार चंपा ठाकुर ने जिला परिषद के स्योग वार्ड से जिला परिषद का चुनाव लड़ा.

किससे था मुकाबला
यहां उनका मुकाबला दया देवी से हुआ। इस वार्ड से यही दो महिलाएं चुनावी मैदान में थी. चंपा ठाकुर को 7964 वोट मिले, जबकि दया देवी को 5575. इस आधार पर चंपा ने अपनी प्रतिद्वंदी को 2389 मतों से पराजित कर दिया. चंपा ठाकुर ने अपनी जीत के लिए स्योग वार्ड की जनता का आभार जताया है. वहीं पिता कौल सिंह ठाकुर ने अपनी बेटी को ऐतिहासिक जीत के लिए बधाई दी है.
लगातार चौथी बार कोई नहीं बना जिला परिषद


मंडी जिला की बात करें तो अभी तक चंपा ठाकुर को छोड़कर दूसरा कोई प्रत्याशी ऐसा नजर नहीं आ रहा है जो लगातार चौथी बार जिला परिषद के लिए चुना गया हो. खासकर हर बार अलग-अलग वार्ड से चुनाव लड़ा और जीता हो. इसी आधार पर यह माना जा रहा है कि चंपा ठाकुर ने पंचायत चुनावों में एक अलग रिकॉर्ड कायम किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज