लाइव टीवी

सरकाघाट क्रूरता मामला: एक और बुजुर्ग बोली, ‘पुजारिन’ ने उसके मुंह पर थूकने का सुनाया था फरमान

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 15, 2019, 5:04 PM IST
सरकाघाट क्रूरता मामला: एक और बुजुर्ग बोली, ‘पुजारिन’ ने उसके मुंह पर थूकने का सुनाया था फरमान
मंडी में बुजुर्ग से क्रूरता मामले में दो और पीड़ितों ने आपबीती सुनाई.

Cruelty with Sarkaghat Old Lady: 70 वर्षीय कृष्णा देवी ने बताया कि 25 दिन पहले देवता (Deity) की तथाकथित पुजारिन ने उसके साथ भी अमानवीय व्यवहार किया.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला (Mandi) के सरकाघाट (Sarkaghat) उपमंडल के बड़ा समाहल गांव में 81 वर्षीय बुजुर्ग (Old Lady) के साथ हुई क्रूरता (Cruelty) में रोजाना नए खुलासे हो रहे हैं. अब उस गांव के अन्य लोग भी खुलकर आगे आकर आपबीती सुनाने लग गए हैं. शुक्रवार को बड़ा समाहल गांव के करीब एक दर्जन लोग सामाजिक कार्यकर्ता (Social Activist) संजय शर्मा के साथ मंडी आए और यहां पत्रकारों से मुखातिब हुए.

एक और महिला ने सुनाई आपबीती
70 वर्षीय कृष्णा देवी ने बताया कि 25 दिन पहले देवता (Deity) की तथाकथित पुजारिन ने उसके साथ भी अमानवीय व्यवहार किया. महिला को यह पता नहीं कि उसका दोष क्या था, लेकिन पुजारिन ने उसे गांव छोड़ने का फरमान सुना दिया और यह भी कहा कि गांव का जो भी व्यक्ति कृष्णा देवी के साथ नाता रखेगा, उसके साथ गांव वाले नाता नहीं रखेंगे. यही नहीं, तथाकथित पुजारिन ने गांव के बच्चों को इस महिला के यहां रहने पर उसके मुहं पर थूकने का भी फरमान सुनाया था. हालांकि, किसी बच्चे ने ऐसी हरकत नहीं की.

यह बोले रिटायर टीचर जयगोपाल

कृष्णा देवी बताती हैं कि वह इस घटना से इतना घबरा गई कि अपने मायके वालों के रहने के लिए चली गई और अब वहीं पर रह रही हैं. वहीं अपने साथ हुई बदसलूकी पर एफआईआर दर्ज करवाने वाले बड़ा समाहल गांव के रिटायर टीचर जय गोपाल भी ने आपबीती सुनाई. जय गोपाल ने बताया कि उसके घर पर तीन देवी-देवताओं के रथ लेकर कुछ लोग आए थे और घर पर काफी तोड़फोड़ भी की थी. कसूर सिर्फ इतना था कि घर पर दूसरे देवी-देवताओं की तस्वीरें भी लगा रखी थी.

71 साल की कृष्णा देवी के साथ भी देवता के नाम पर बदसलूकी की गई है.
71 साल की कृष्णा देवी के साथ भी देवता के नाम पर बदसलूकी की गई है.


पहले वाले पुजारी ने नहीं की बदसलूकीजय गोपाल ने बताया कि वह बचपन से देव माहूंनाग की पूजा करते आ रहे हैं और देवता को मानते भी हैं, लेकिन इससे पहले देवता के जो दो पुजारी थे उन्होंने कभी भी किसी के साथ ऐसी अमानवीयता नहीं की. उक्त पुजारिन के आने के बाद ही यह सारी घटनाएं हो रही हैं. जय गोपाल भी इस घटना के बाद गांव छोड़कर किसी दूसरे स्थान पर रहने के लिए चले गए हैं.

रिटायर टीचर जयगोपाल.
रिटायर टीचर जयगोपाल.


मजिस्ट्रियल जांच करवाने की मांग
सामाजिक कार्यकर्ता संजय शर्मा ने इस पूरे मामले की मजिस्ट्रियल जांच करवाने की मांग उठाई है. उन्होंने कहा कि मामला काफी संवेदनशील है और इसकी जांच मजिस्ट्रेट स्तर के अधिकारी द्वारा की जानी चाहिए.

यह है मामला
छह नवंबर को समाहन गांव में 81 साल की बुजुर्ग के साथ गांव के कुछ लोगों ने क्रूरता की थी. आरोपियों ने बुजुर्ग का मुंह काला किया और उसके गले में जूतों की माल डालकर गांव में घुमाया. अबतक इस मामले में 24 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. सभी आरोपी न्यायिक हिरासत में जेल में बंद हैं.

ये भी पढ़ें: Facebook पर लूट! अकाउंट हैक कर PayTm के जरिए 65 हजार ठगे, जानें पूरा मामला

PHOTOS: हिमाचल में भारी बर्फबारी-बारिश का अलर्ट, किन्नौर-लाहौल में हुआ स्नोफॉल

कांगड़ा में पैराग्लाइडिंग का वायरल VIDEO 2.0, युवक बोला-अंत्याक्षरी खेलें?

हिमाचल: फौजी जवान की पत्नी ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा- बेटी का ख्याल रखना

छात्रा से फोन पर ‘गंदी बात’ करने वाले बिलासपुर कॉलेज के संगीत प्रोफेसर पर FIR

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 4:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर