Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल उपचुनाव में वोट बहिष्कार की खबरों से बेचैन हुए सियासी दलों के नेता, जानें क्या है वजह

हिमाचल उपचुनाव में वोट बहिष्कार की खबरों से बेचैन हुए सियासी दलों के नेता, जानें क्या है वजह

उन्होंने कहा कि जब तक सरकारों के द्वारा उनके लिए कोई योजना नहीं बनाई जाती है तब तक नोटा का बटन दबा कर हर चुनाव का बहिष्कार किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि जब तक सरकारों के द्वारा उनके लिए कोई योजना नहीं बनाई जाती है तब तक नोटा का बटन दबा कर हर चुनाव का बहिष्कार किया जाएगा.

देवभूमि क्षत्रिय संगठन और देवभूमि स्वर्ण मोर्चा के पदाधिकारियों का कहना है कि शुरू से ही हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में सामान्य वर्ग के हितों की अनदेखी की गई. यही वजह है कि हम लोगों ने उपचुनावों में नोटा बटन दबाने का निर्णय लिया है.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. स्वर्ण आयोग के गठन व अन्य लंबित मांगे पूरी न होने पर देवभूमि क्षत्रिय संगठन व स्वर्ण मोर्चा हिमाचल प्रदेश (Swarn Morcha Himachal Pradesh) ने अपना रोष प्रकट किया है. इन दोनों संगठनों ने प्रदेश में होने वाले उपचुनाव (By-Election) का बहिष्कार (Boycott) करने का निर्णय लिया है. खास कर देवभूमि क्षत्रिय संगठन व स्वर्ण मोर्चा हिमाचल प्रदेश ने कांग्रेस और बीजेपी का बहिष्कार करने का मन बना लिया है. प्रदेश में स्वर्ण आयोग के गठन की मांग पूरी न होने के बाद से सामान्य वर्ग के परिवारों में भारी आक्रोश है. दरअसल, रविवार को मंडी में आयोजित एक संयुक्त पत्रकार वार्ता के दौरान देवभूमि क्षत्रिय संगठन व देवभूमि स्वर्ण मोर्चा के पदाधिकारियों ने बताया कि हिमाचल सरकार (Himachal Government) व केंद्र सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के हितों की लगातार अनदेखी की जा रही है, जिसके विरोध स्वरूप उन्होंने हिमाचल प्रदेश में हो रहे उपचुनावों में नोटा बटन दबाने का निर्णय लिया है.

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार सहित हिमाचल की प्रमुख राजनीतिक पार्टियां बीजेपी व कांग्रेस दोनों ने ही सामान्य वर्ग में व्यापक आक्रोश को गंभीरता से नहीं लिया है. जिसका परिणाम उन्हें चुनावों में भुगतना पड़ेगा. देवभूमि क्षत्रिय संगठन के प्रदेश अध्यक्ष रोमित ठाकुर ने कहा कि शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने विधानसभा में व्यक्तिगत रूप से स्वर्ण आयोग के गठन की बात कही थी. बावजूद इसके किसी ने भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया. उन्होंने कहा कि सामान्य वर्ग के न्याय व अन्य मौलिक अधिकारों पर हो रहे कुठाराघात को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियों द्वारा चुप्पी साधने पर अब उप चुनावों में सबक सिखाने का मन बना लिया है.

चुनाव का बहिष्कार किया जाएगा
उन्होंने कहा कि जब तक सरकारों के द्वारा उनके लिए कोई योजना नहीं बनाई जाती है तब तक नोटा का बटन दबा कर हर चुनाव का बहिष्कार किया जाएगा. पत्रकार वार्ता में उनके साथ देवभूमि स्वर्ण मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष मदन ठाकुर, क्षत्रिय संगठन जिला अध्यक्ष सुधीर सेन, स्टेट कमेटी मेंबर राकेश ठाकुर मंडोत्रा और आईटी जिला प्रभारी मनीष ठाकुर मंडोत्रा सहित अन्य पदाधिकारी भी मौजूद रहे.

Tags: BJP, By election, Congress, Himachal pradesh news, Mandi news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर