IPH मंत्री महेंद्र सिंह के गृहजिला मंडी में पानी की बूंद-बूंद को तरसा ये 88 वर्षीय बुजुर्ग

Nitesh Saini | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 28, 2019, 12:42 PM IST
IPH मंत्री महेंद्र सिंह के गृहजिला मंडी में पानी की बूंद-बूंद को तरसा ये 88 वर्षीय बुजुर्ग
वृद्ध बक्शी राम ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर को भी कई मर्तबा शिकायत पत्र भेजा है.

Water Problem in Sunder Nagar: बक्शी राम ने दोबारा से विभागीय अधिकारियों, मुख्यमंत्री, मंत्री, जिला प्रशासन और स्थानीय विधायक से गुहार लगाई है कि पेयजल की समस्या का स्थाई समाधान करके जिंदगी के इस अंतिम पड़ाव पर उसे राहत प्रदान करें, अन्यथा मजबूरन उन्हें आमरण अनसन पर बैठना पड़ेगा.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश सरकार में सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य मंत्री ( Irrigation & Public Health Minister) महेद्र सिंह ठाकुर  ( Mahender Singh Thakur) के गृह जिला मंडी के सुंदरनगर (Sunder Nagar) उपमंडल के तहत आने वाली ग्राम पंचायत बरोटी के बनौड़ क्षेत्र 88 वर्षीय बक्शी राम बरसात के दिन में पानी की एक-एक बूंद के लिए मोहताज हैं. जिला प्रशासन और उपमंडल प्रशासन के बार-बार चक्कर काटने के बावजूद सीनियर सिटीजन बख्शी राम की मेहनत 8 माह बीत जाने के बाद भी रंग नहीं लाई है.

सीएम से भी गुहार
थके हारे और मन में निराशा लिए वृद्ध बक्शी राम ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) और आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर को भी कई मर्तबा पेयजल (Water Supply) की समस्या का समाधान करने के लिए शिकायत पत्र भेजा है, लेकिन कोई भी सुनवाई नहीं हुई है. इतना ही नहीं, बल्कि सुंदरनगर के विधायक राकेश जंवाल को भी वृद्ध बक्शी राम ने व्यक्तिगत तौर पर समस्या से अवगत करवाया, लेकिन समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है.

यह है समस्या

बक्शी राम को मलाल है कि आईपीएच विभाग ने जिस जगह से पानी के कनेक्शन के दो भाग किए हैं, उससे 50 मीटर दूरी पर उसका घर है, लेकिन फिर भी नल में पानी की नहीं आता है. वहीं, उसके विपरीत उसी पाइप से, जो कनेक्शन पड़ोसी को नीचे की ओर दिया गया है, उसे नियमित तौर पर पानी की सप्लाई आ रही है. भले ही विभागीय अधिकारियों ने क्षेत्र का दौरा किया हो, लेकिन समस्य जस की तस बनी हुई है. बक्शी राम ने दोबारा से विभागीय अधिकारियों, मुख्यमंत्री, मंत्री, जिला प्रशासन और स्थानीय विधायक से गुहार लगाई है कि पेयजल की समस्या का स्थाई समाधान करके जिंदगी के इस अंतिम पड़ाव पर उसे राहत प्रदान करें, अन्यथा मजबूरन उन्हें आमरण अनसन पर बैठना पड़ेगा.

कानूनी कार्रवाई करेंगे: समाजसेवी
दिव्यांगजनों के कानूनी सलाहकार एवं मुख्य समाजसेवी कुशल कुमार सकलानी का कहना है कि आईपीएच विभाग के विभागीय अधिकारियों की कारगुजारी से हर कोई परेशान है. उन्होंने आईपीएच मंत्री और मुख्यमंत्री से व्यक्तिगत तौर पर अधिकारियों की कर गुजरी के ऊपर कड़ा संज्ञान लेने की मांग की है ताकि जनता राहत की सांस ले सकेगी. उन्होंने कहा कि वृद्ध बक्शी राम की समस्या को कानूनी कार्यवाही से सुलझाएंगे और काम में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे.
Loading...

जल्द होगा समाधान: विभाग
आईपीएच विभाग के सहायक अभियंता रजत गर्ग का कहना है कि बुजुर्ग की समस्या ध्यान में है, लेकिन पड़ोस में वातावरण ठीक ना होने से पेयजल की सप्लाई का बराबर वितरण करने में समस्या आई है. जल्द ही समस्या का कोई स्थाई समाधान निकाला जाएगा.

ये भी पढ़ें: धारा-118 मुद्दा: लोगों में भ्रम पैदा न करे कांग्रेस: सीएम

हिमाचल पुलिस भर्ती परीक्षा की नई तारीख का ऐलान,ये है शेड्यूल

IPH मंत्री के जिले में बूंद-बूंद को तरसा 88 वर्षीय बुजुर्ग

सेक्स वीडियो: पू्र्व BJYM नेता-पत्नी और शिकायतकर्ता गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 10:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...