रोज-रोज का झगड़ा ऐसा बढ़ा कि बाप ने बेटे की ली जान, बाप गिरफ्तार, बड़ा भाई फरार

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के गोहर उपमंडल के सनथर गांव में बीते शुक्रवार की रात 24 वर्षीय देशराज ने जमीन बेचने की बात परिवार के सदस्यों से कही. बाप बालक राम और बड़े भाई खेमचंद ने इसका विरोध किया और झगड़ा बढ़ता गया और अंतत: छोटे बेटे की हत्या कर दी गई.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 8, 2018, 1:21 PM IST
रोज-रोज का झगड़ा ऐसा बढ़ा कि बाप ने बेटे की ली जान, बाप गिरफ्तार, बड़ा भाई फरार
बेटे की मौत पर मातमपुर्सी करते हुए परिजन
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 8, 2018, 1:21 PM IST
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के गोहर उपमंडल के सनथर गांव में बीते शुक्रवार की रात 24 वर्षीय देशराज ने जमीन बेचने की बात परिवार के सदस्यों से कही. देशराज के पिता बालक राम और बड़े भाई खेम चंद ने इसका विरोध किया. धीरे-धीरे विवाद बढ़ता गया और विवाद इतना बढ़ गया कि बात मारपीट तक आ गई. बालक राम ने अपने बड़े बेटे खेम चंद के साथ मिलकर छोटे बेटे देशराज की डंडों से पिटाई शुरू कर दी. दोनों ने मिलकर देश राज को इतनी बेरहमी से पीटा कि उसकी मौत हो गई. उसके बाद उसके बाद शव को गांव के मुख्य रास्ते से घसीटते हुए ले गए और पास के नाले में जाकर शव को फेंक दिया.

गांव वालों ने सुबह जब रास्ते पर खून बिखरा देखा तो इसकी सूचना गोहर पंचायत की प्रधान और पुलिस को दी. पुलिस ने मौके पर आकर देखा तो नाले के पास नग्न अवस्था में देशराज का शव पड़ा हुआ था. पुलिस ने मौके पर ही मृतक देशराज के पिता बालक राम को गिरफ्तार कर लिया है जबकि खेमचंद मौके से फरार बताया जा रहा है.

डीएसपी हेडर्क्वाटर हितेश लखनपाल एफएसएल टीम के साथ मौके पर पहुंचकर सभी साक्ष्यों को जुटाने में लग गए हैं. उन्होंने घटना की पुष्टि की है और कहा कि मामले की जांच अभी जारी है. वहीं इस मामले में रात को परिवार के सदस्यों के शराब के नशे में होने की बात भी सामने आ रही है. इसके लिए सभी का मेडिकल भी करवाया जाएगा. गोहर पंचायत की प्रधान पदमा देवी ने बताया कि गांव वालों की सूचना के आधार पर जानकारी मिली है और इसमें आगामी कार्रवाही की जा रही है.

वहीं यह जानकारी भी मिली है इस परिवार में रोज शाम को किसी ने किसी बात को लेकर झगड़ा होता रहता था. परिवार के सदस्य आपस में ही झगड़ते रहते थे जिस कारण गांव के लोग भी इससे काफी परेशान थे. हालांकि यह किसी ने नहीं सोचा था कि रोज—रोज की किचकिच एक दिन घर का चिराग ही बुझा देगी.

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब में फंसे लोग सुरक्षित, जल्द लगाए जाएंगे वापस- सीएम

भगवान हनुमान को दलित बताकर वोट लेने का प्रपंच कर रही है बीजेपी: प्रेम कौशल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर