लाइव टीवी

मंडी: आउट ऑफ सिलेबस आया पेपर तो परीक्षार्थियों ने किया बहिष्कार

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 14, 2019, 5:41 PM IST
मंडी: आउट ऑफ सिलेबस आया पेपर तो परीक्षार्थियों ने किया बहिष्कार
मंडी कॉलेज के बाहर जुटे परीक्षार्थी.

गोल्डन चांस को लेकर हिमाचल प्रदेश में तीन परीक्षा केंद्र बनाए गए थे जिनमें शिमला, धर्मशाला और मंडी शामिल थे. बताया जा रहा है कि परीक्षार्थी हर जगह परेशान हुए हैं, लेकिन परीक्षा का बहिष्कार सिर्फ मंडी में ही हुआ है.

  • Share this:
मंडी. गोल्डन चांस पर इम्प्रूवमेंट की परीक्षा देने आए परीक्षार्थियों के उस वक्त होश फाख्ता हो गए, जब उन्हें आउट ऑफ सिलेबस (Out of Syllabus ) का प्रश्न पत्र थमा दिया गया. मंडी कालेज (Mandi) में परीक्षा देने आए 150 के करीब परिक्षार्थियों ने परीक्षा का बहिष्कार कर दिया और हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (एचपीयू) को ज्ञापन भेजकर इस परीक्षा (Exam) को दोबारा आयोजित करने की मांग उठाई है.

यह है मामला
जानकारी के अनुसार, हिमाचल प्रदेश (Himachal) सरकार ने साल 1990 से 2012 के बीच में ग्रेजुएशन कर चुके लोगों को अंग्रेजी विषय में इम्प्रूवमेंट लाने के लिए परीक्षा का गोल्डन चांस दिया था. परीक्षा देने आए जितेंद्र कुमार, संतोष कुमारी और मनोहर लाल ने बताया परीक्षा को लेकर जो नोटिफिकेशन जारी की गई थी, उसमें 2012-13 के सिलेबस पर परीक्षा आयोजित करने की बात कही गई थी. लेकिन परीक्षा रूसा के तहत आयोजित की गई और सिलेबस भी 2014-15 का डाला गया.

जो पढ़ा ही नहीं, उसकी परीक्षा कैसे?

परिक्षार्थियों का कहना है कि जो उन्होंने पढ़ा ही नहीं उसकी परीक्षा कैसे दे सकते हैं. इन्होंने मौके पर मौजूद परीक्षा अधीक्षक को सारी बात से अवगत करवाया. परीक्षा अधीक्षक ने एचपीयू (Himachal Pradesh University) में बात की, जिसके बाद परीक्षा को स्थगित करने का निर्णय लिया गया है. सभी परिक्षार्थियों ने मंडी कॉलेज के प्रधानाचार्य के माध्यम से विश्वविद्यालय के कुलपति और सीएम जयराम ठाकुर को ज्ञापन भेजकर परीक्षा को दोबारा से आयोजित करवाने की मांग उठाई है.

अंग्रेजी विषय में इम्प्रूवमेंट लाने के लिए परीक्षा का गोल्डन चांस दिया था.
अंग्रेजी विषय में इम्प्रूवमेंट लाने के लिए परीक्षा का गोल्डन चांस दिया था.


तीन सेंटर पर एग्जाम
Loading...

गोल्डन चांस को लेकर हिमाचल प्रदेश में तीन परीक्षा केंद्र बनाए गए थे, जिनमें शिमला, धर्मशाला और मंडी शामिल थे. बताया जा रहा है कि परीक्षार्थी हर जगह परेशान हुए हैं, लेकिन परीक्षा का बहिष्कार सिर्फ मंडी में ही हुआ है. यह, वह लोग हैं जो या तो सरकारी नौकरी कर रहे हैं या फिर इन्होंने बीएड कर रखी है. सरकार ने इन सभी को ग्रेजुएशन की परसेंटेज बढ़ाने के लिए अंग्रेजी विषय की इम्प्रूवमेंट का गोल्डन चांस दिया है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल: MLA के बेटे की दादगिरी, कारोबारी को धमकाया और मांगा हफ्ता, Audio वायरल

गर्ल्स स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे गवर्नर दत्तात्रेय, छात्राओं ने पूछे सवाल

कपिल के शो में बजा ‘नीरू चली घूमदी’, हिमाचली बच्चों ने गोविंदां संग डाली नाटी

मंडी: चिट्टे की डील को लेकर उलझे युवा, एक दबोचा, दूसरा फरार

दो परिवारों में खूनी संघर्ष, लाठी और दराट से हमले में 4 घायल, देखें VIDEO

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 5:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...