• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल उपचुनाव: हाईकमान ने लगाई मुहर, आश्रय दरकिनार, मंडी से प्रतिभा सिंह होंगी कांग्रेस प्रत्याशी

हिमाचल उपचुनाव: हाईकमान ने लगाई मुहर, आश्रय दरकिनार, मंडी से प्रतिभा सिंह होंगी कांग्रेस प्रत्याशी

प्रतिभा सिंह पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह की पत्नी हैं.

प्रतिभा सिंह पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह की पत्नी हैं.

Mandi By Elections: कांग्रेस पार्टी ने टिकट पर तो अंतिम निर्णय ले लिया है लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी की राह भी आसान नहीं होने वाली है. यदि सुखराम परिवार से टिकट छिटका है तो यह परिवार भी अब शांत नहीं बैठेगा.

  • Share this:

विरेंद्र भारद्वाज

मंडी. हिमाचल प्रदेश की मंडी संसदीय सीट पर होने जा रहे उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी ने प्रतिभा सिंह के नाम पर मुहर लगा दी है. दिल्ली दरबार में प्रतिभा सिंह के नाम पर फाइनल मुहर लगा दी गई है, जबकि आश्रय शर्मा को सीधे तौर पर इनकार कर दी गई है.

पार्टी के पुख्ता सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली दरबार ने यह तय कर लिया है कि मंडी में होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी की तरफ से प्रतिभा सिंह ही प्रत्याशी होंगी. हालांकि, इसका औपचारिक ऐलान होना ही बाकी रह गया है. यह ऐलान सभी प्रत्याशियों का एक साथ ही किया जाएगा. पार्टी के पुख्ता सूत्रों ने बताया कि हाईकमान ने आश्रय शर्मा को सीधे रूप से इनकार कर दी है और प्रतिभा सिंह पर ही दांव खेलने का निर्णय ले लिया है.

बता दें कि मंडी सीट से टिकट के दो ही दावेदार सामने आए थे, जिनमें एक प्रतिभा सिंह और दूसरा नाम आश्रय शर्मा का था. आश्रय शर्मा 2019 में कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी थे और उन्हें 4 लाख 5 हजार मतों के बड़े अंतर से हार का सामना करना पड़ा था. ऐसे में अब कांग्रेस पार्टी ने यहां से सशक्त उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारने का निर्णय लिया है. यही कारण है कि प्रतिभा सिंह के नाम पर मुहर लगा दी गई है. बता दें कि हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी और कांग्रेस के अन्य नेता भी प्रतिभा सिंह के नाम की ही पैरवी कर रहे थे. आश्रय शर्मा के पक्ष में कोई नहीं था, जबकि वे दिल्ली दरबार में डेरा डालकर टिकट की आस लगाए बैठे थे. अब उनकी आस टूट गई है.
भाजपा के लिए आसान नहीं रहेगी राह
पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह के नाम पर मुहर लग जाने के बाद अब भाजपा के लिए चुनाव की राह आसान नहीं होगी. प्रतिभा सिंह पूर्व सीएम स्व. वीरभद्र सिंह की पत्नी हैं और वीरभद्र सिंह का हालही में देहांत भी हुआ है. ऐसे में वीरभद्र सिंह परिवार के प्रति लोगों में गहरी संवेदना है. यही कारण है कि भाजपा के लिए अब यह उपचुनाव कड़ी टक्कर देने वाला होने वाला है. अब भाजपा को प्रतिभा सिंह के मुकाबले अपना दमदार प्रत्याशी उतारना होगा.

क्या सुखराम परिवार का मिलेगा साथ?
कांग्रेस पार्टी ने टिकट पर तो अंतिम निर्णय ले लिया है लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी की राह भी आसान नहीं होने वाली है. यदि सुखराम परिवार से टिकट छिटका है तो यह परिवार भी अब शांत नहीं बैठेगा. चाहे सुखराम परिवार का अब कोई ज्यादा वर्चस्व नहीं रहा हो, लेकिन चुनावी बेला में हर किसी को साथ लेकर चलने में ही हर प्रत्याशी की भलाई होती है. ऐसे में इस परिवार के साथ जुड़े लोगों को अपने साथ लेकर चलना कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह के किसी चुनौती से कम नहीं होगा. बहुत लोग ऐसे हैं जो आज भी सुखराम परिवार के साथ व्यक्तिगत तौर पर जुड़े हुए हैं. खासकर सदर विधानसभा क्षेत्र में इनका आज भी जनाधार बरकरार है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज