सरकार कराएगी आईएएस और एचएएस की तैयारी, सरकाघाट में खुलेगी प्री कोचिंग सैन्य अकादमी

हिमाचल प्रदेश की सरकार आईएएस और एचएएस की तैयारी करने के लिए कोचिंग की सुविधा मुहैया कराएगी. सरकार सरकाघाट में प्री कोचिंग सैन्य अकादमी खोलेगी.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 11, 2019, 1:47 PM IST
सरकार कराएगी आईएएस और एचएएस की तैयारी, सरकाघाट में खुलेगी प्री कोचिंग सैन्य अकादमी
सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने इस बारे में विस्तार से दी जानकारी  
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 11, 2019, 1:47 PM IST
मंडी. जिले के सरकाघाट उपमंडल में प्रदेश की पहली प्री कोचिंग सैन्य अकेडमी में न सिर्फ सेना में नौकरी से संबंधित कोचिंग दी जाएगी बल्कि यहां आईएएस और एचएएस जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग का प्रावधान भी रखा जाएगा. मंडी जिला के सकरघाट में प्रदेश सरकार राज्य की पहली प्री कोचिंग सैन्य अकादमी खोलने जा रही है. अभी शुरुआती दौर में यह कोचिंग अकादमी सरकाघाट कॉलेज के एक हॉस्टल में चलेगी जबकि जल्द ही इसके लिए भवन का निर्माण किया जाएगा. इस अकादमी में दो प्रकार की कोचिंग का प्रावधान होगा. एक तो सेना या पैरामिलिट्री फोर्स में बतौर सैनिक भर्ती होने के लिए कोचिंग दी जाएगी और दूसरी कोचिंग सेना में अधिकारी बनने के लिए दी जाएगी. सेना में अधिकारी बनने के लिए जो कोचिंग मिलेगी उसी में आईएएस और एचएएस जैसी प्रतियोगी परिक्षाओं का कंसेप्ट भी शामिल किया गया है.

 10 वीं की परीक्षा में टाॅपर बच्चों को दी जाएगी कोचिंग: मंत्री 

सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि अमीर परिवारों के बच्चे दिल्ली या चंडीगढ़ जाकर प्रतियोगी परिक्षाओं की कोचिंग ले लेते हैं लेकिन गरीब परिवारों के होनहार बच्चे इसमें पिछड़ जाते हैं. उन्होंने बताया कि अकादमी के शुरू होने के बाद 10वीं की परीक्षाओं में जो भी बच्चे टाॅपर रहेंगे उन्हें यहां कोचिंग देने का प्रावधान किया जाएगा. यहां कोचिंग के लिए आने वाले बच्चे पर ही निर्भर करेगा कि उसने आईएमए, एनडीए, आईएएस या एचएएस सहित अन्य किस प्रकार की प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयारी करनी है, क्योंकि इन सभी प्रतियोगी परिक्षाओं से संबंधित कोचिंग इस सेंटर पर देने का प्रावधान किया जाएगा.

सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर का स्वागत करते लोग


वहीं इस कोचिंग सेंटर में दूसरी कोचिंग सेना में बतौर सैनिक भर्ती होने को लेकर दी जाएगी. यह तीन महीने का ट्रेनिंग कैंप हुआ करेगा. इसमें फिजिकल फिटनेस और रिटेन एग्जा़म से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाएगा. इसके बाद युवाओं को सेना, अर्धसैनिक बल, हिमाचल पुलिस या वन विभाग सहित अन्य प्रकार की भर्तियों के लिए पूरी तरह से तैयार हो जाएगा.

जल्द ही सीएम के हाथों होगा इसका शुभारंभ

सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर की मानें तो अकादमी को लेकर सारा प्रारूप तैयार कर लिया गया है और जल्द ही सीएम जयराम ठाकुर के हाथों इसका विधिवत रूप से शुभारंभ करवाया जाएगा. वहीं इसके अपने भवन की आधारशिला भी उसी दिन रख दी जाएगी. मंत्री की मानें तो अगले दो से तीन महीनों के भीतर यह अकेडमी विधिवत रूप से शुरू हो जाएगी.
Loading...

ये भी पढ़ें- खूनी झड़प : CCTV फुटेज में भारतीय छात्रों पर हमला करते दिख रहे हैं अफगानी

कौन हैं बंडारू दत्तात्रेय, जिन्होंने हिमाचल के 27वें राज्यपाल की शपथ ली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 1:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...