Home /News /himachal-pradesh /

heavy rain in himachal chandigarh manali national highway open after 16 hours of landslides hpvk

हिमाचल में 16 घंटे बाद बहाल हुआ चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे, लोगों को मिली राहत

गुरुवार शाम सात बजे 6 मील घ्राण के पास चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग पहाड़ी दरकने से बंद हो गया.

गुरुवार शाम सात बजे 6 मील घ्राण के पास चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग पहाड़ी दरकने से बंद हो गया.

Heavy rain in Himachal: फोरलेन की कटिंग की वजह से इस मार्ग पर पहाड़ कमजोर हो गए हैं और लगातार लैंडस्लाइड होते रहते हैं. कुल्लू जाने के लिए मंडी से कटौला होकर जाना सुरक्षित है.

मंडी. हिमाचल प्रदेश मे मॉनसून ने रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है. गुरुवार को हिमाचल के मंडी जिले में 6 मील घ्राण के पास पहाड़ी दरकने से बंद चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग 16 घंटे बाद शुक्रवार सुबह बहाल हो पाया. इस दौरान बड़ी संख्या में वाहन ट्रैफिक जाम में फंसे रहे. हालांकि, वेकल्पिक तौर पर कटौला से लोग कुल्लू के निकले. लेकिन बड़े वाहनों को परेशानी हुई और वह इंतजार करते रहे. भूस्खलन की वजह से सात मील से मंडी तक 10 किलोमीटर लंबा जाम लग गया. गुरुवार शाम करीब सात बजे से मंडी के पंडोह के पास चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे पर यातायात पूरी तरह से ठप हो गया.

दरअसल, गुरुवार शाम सात बजे 6 मील घ्राण के पास चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग पहाड़ी दरकने से बंद हो गया. पहाड़ी से पत्थर और मलबा गिरने से मालवाहक वाहन भी चपेट में आया. चालक सहित एक अन्य व्यक्ति घायल हो गए और जोनल अस्पताल मंडी में उपचाराधीन हैं.

प्रशासन ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए सुबह तक यातायात बंद कर दिया था. वाहनों को वाया बजौरा वैकल्पिक मार्ग से भेजा जा गया. लेकिन मार्ग संकरा होने के कारण यहां भी लंबा जाम लगा रहा. इसके बाद हाईवे शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे यातायात के लिए बहाल हो सका. मार्ग बहाल होने से चालकों ने राहत की सांस जरूर ली, लेकिन खतरा अब भी बना हुआ है. फोरलेन की कटिंग की वजह से इस मार्ग पर पहाड़ कमजोर हो गए हैं और लगातार लैंडस्लाइड होते रहते हैं. कुल्लू जाने के लिए मंडी से कटौला होकर जाना सुरक्षित है.

Tags: Chandigarh Manali National Highway, Himachal pradesh, Mandi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर