• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • मार्शल आर्ट के लिए छोड़ी CRPF की नौकरी, वर्ल्ड चैंपियनशिप में जीता कांस्य

मार्शल आर्ट के लिए छोड़ी CRPF की नौकरी, वर्ल्ड चैंपियनशिप में जीता कांस्य

कंबोडिया में पुरुषोत्तम ने कांस्य पदक जीता है.

कंबोडिया में पुरुषोत्तम ने कांस्य पदक जीता है.

हिमाचल प्रदेश वोविनाम एसोसिएशन के अध्यक्ष राजा सिंह मल्होत्रा ने पुरुषोत्तम सिंह के मंडी पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया और उन्हें सम्मानित भी किया.

  • Share this:
मंडी. इसे खेल के प्रति जुनून ना कहें तो और क्या…क्योंकि इसी के लिए पुरुषोत्तम सिंह ने सीआरपीएफ (CRPF) की नौकरी तक छोड़ दी. इस खिलाड़ी ने अब मार्शल आर्ट (Martial Arts) में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कांस्य पदक हासिल किया है. कंबोडिया में आयोजित छठी वर्ल्ड वोविनाम मार्शल आर्ट चैंपियनशिप में पुरुषोत्तम सिंह ने कंबोडिया (Cambodia) के खिलाड़ी को शिकस्त देते हुए कांस्य पदक झटका है. इस चैंपियनशिप में 26 देशों की टीमों ने भाग लिया था.

छह बार नेशनल चैंपियनशिप में लिया हिस्सा
कांगड़ा के बैजनाथ से संबंध रखने वाले पुरुषोत्तम सिंह सीआरपीएफ में अपनी सेवाएं दे चुके हैं. नौकरी छोड़ खेल को तवज्जो देने वाले पुरुषोत्तम सिंह ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का नाम रोशन किया. पुरुषोत्तम सिंह सिंह ने बताया कि वह कराटे में छह बार नेशनल चैंपियनशिप में भाग ले चुके हैं. उनका सपना है कि वह भविष्य में भी इस खेल के लिए कड़ी मेहनत करते हुए भारत के लिए गोल्ड मेडल लाने का प्रयास करेंगे. उन्होंने सहयोग के लिए प्रदेश वोविनाम एसोसिएशन के पदाधिकारियों का आभार जताया है.

यह बोले पुरुषोत्तम सिंह
पुरुषोत्तम सिंह ने कहा कि एसोसिएशन के सहयोग के बिना अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह पदक लाना उनके लिए संभव नहीं था. इस स्पर्धा में युवाओं को आगे आना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश सरकार से वोविनाम को प्रदेश में रिकोग्नाईज करने की मांग भी उठाई है.

कंबोडिया में पुरुषोत्तम ने कांस्य पदक जीतने पर मंडी में उनका स्वागत किया गया.
कंबोडिया में पुरुषोत्तम ने कांस्य पदक जीतने पर मंडी में उनका स्वागत किया गया.


पिता के निधन के बाद भी जारी रखा खेलना
पुरुषोत्तम सिंह बताते हैं कि उनके परिवार में उनकी मां, पत्नी, भाई और बहन हैं. उनके पिता का निधन 2010 में हो गया था, जिसके बाद भी उन्होंने पारिवारिक परिस्थितियों से लड़ कर अपनी प्रैक्टिस को जारी रखा और आज भारत व हिमाचल प्रदेश का नाम विदेश में रोशन किया. हिमाचल प्रदेश वोविनाम एसोसिएशन के अध्यक्ष राजा सिंह मल्होत्रा ने पुरुषोत्तम सिंह के मंडी पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया और उन्हें सम्मानित भी किया. उन्होंने बताया कि पुरुषोत्तम सिंह ने 54 किलोग्राम भार वर्ग में फुल कांटेक्ट फाइट स्पर्धा में देश की टीम में भाग लिया और भारत के लिए कांस्य मेडल जीत कर अपने देश और प्रदेश को गौरवान्वित किया. उन्होंने बताया कि पुरुषोत्तम सिंह हिमाचल वोविनाम एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष और जिला कांगड़ा वोविनाम एस्सोसिएशन के महासचिव भी है.

कंबोडिया में पुरुषोत्तम ने कांस्य पदक जीता.
कंबोडिया में पुरुषोत्तम ने कांस्य पदक जीता.


मार्शल आर्ट इंडोनेशिया का मार्शल आर्ट
बता दें कि वोविनाम मार्शल आर्ट इंडोनेशिया देश का मार्शल आर्ट है. यह आर्ट अपनी अदभुत सेल्फ डिफेन्स की तकनीकों और भिन्न भिन्न वेपन इवेंट्स के लिए जाना जाता है और भारत में यह आर्ट युवाओं और बच्चों द्वारा बहुत ही पसंद किया जा रहा है. वोविनाम मार्शल आर्ट स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा मांन्यता प्राप्त है और इसी सत्र में भारतीय युवा सेवाएं एवं खेल मंत्रालय से भी मान्यता मिलने की संभावना है. इससे युवाओं को इस आर्ट का खेल के क्षेत्र में भी लाभ मिलेगा. इस अवसर पर प्रदेश वोविनाम एस्सोसिएशन के महासचिव जोगिंद्र सिंह आजाद व अन्य मौजूद रहे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज