लाइव टीवी

मंडी : राजनीति में सुखराम परिवार का कद बढ़ा, कांग्रेस हार की करेगी समीक्षा
Mandi News in Hindi

Virender Bhardwaj | News18Hindi
Updated: December 20, 2017, 3:06 PM IST
मंडी : राजनीति में सुखराम परिवार का कद बढ़ा, कांग्रेस हार की करेगी समीक्षा
मंडी से भाजपा के दिग्गज सुख राम.

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों के परिणामों के बाद सुखराम परिवार का राजनीति में कद और उंचा हो गया है. जब सुखराम परिवार ने कांग्रेस को छोड़कर भाजपा का दामन थामा तो तरह-तरह के क्यास लगाए जा रहे थे, लेकिन परिणामों ने एक बार फिर साबित कर दिया कि सुखराम का व्यक्तिगत तौर पर जो जनाधार है वह कम नहीं हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 20, 2017, 3:06 PM IST
  • Share this:
हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों के परिणामों के बाद सुखराम परिवार का राजनीति में कद और उंचा हो गया है. जब सुखराम परिवार ने कांग्रेस को छोड़कर भाजपा का दामन थामा तो तरह-तरह के क्यास लगाए जा रहे थे, लेकिन परिणामों ने एक बार फिर साबित कर दिया कि सुखराम का व्यक्तिगत तौर पर जो जनाधार है वह कम नहीं हुआ है.

भाजपा ने मंडी जिला में 10 में से 9 सीटों पर जीत का परचम लहराया है. एक सीट निर्दलीय के खाते में गई है लेकिन कांग्रेस खाता भी नहीं खोल पाई है. राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले पूर्व केंद्रीय संचार राज्य मंत्री सुखराम इस बात को लेकर उत्साहित हैं कि जिस पार्टी को उन्होंने ज्वाइन किया जनता ने उसे अपना बहुमत देकर इतिहास रचा है.

अनिल शर्मा को भी अब कांग्रेसी नेताओं को जबाव देने का मौका मिल गया है. कांग्रेस छोड़ने पर कई बातें उठी थी, ताकि सुखराम और उनके परिवार को बैकफुट पर लाया जा सके, लेकिन ऐसा हो नहीं सका.



अनिल शर्मा ने पार्टी बेशक बदल दी लेकिन सदर की जनता ने अपना प्रतिनिधि नहीं बदला. अनिल शर्मा अब कांग्रेस को उनके जाने के बाद हुए नुकसान का आंकलन करने की सलाह दे रहे हैं.



पहली बार मंडी से कोई नहीं कांग्रेसी नहीं पहुंचा विधानसभा
कांग्रेस अब इस बात को लेकर समीक्षा करने के मूढ़ में है. क्योंकि प्रदेश में चाहे भाजपा की जितनी भी लहर रही हो कभी ऐसा नहीं हुआ कि मंडी जिला से कांग्रेस का कोई प्रतिनिधि चुनकर विधानसभा न पहुंचा हो. जिला के बड़े-बड़े दिग्गज धराशायी हो गए.

अब कांग्रेस इसी बात को लेकर समीक्षा करने जा रही है कि इतने ज्यादा नुकसान का कारण क्या रहा. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कौल सिंह ठाकुर ने कहा कि इसकी समीक्षा की जाएगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 20, 2017, 3:06 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading