Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल उपचुनाव : जनता के मुद्दे 'गायब', विवादित बयानों से मैदान मारने की जुगत में नेता, पढ़ें किसने क्‍या कहा?

हिमाचल उपचुनाव : जनता के मुद्दे 'गायब', विवादित बयानों से मैदान मारने की जुगत में नेता, पढ़ें किसने क्‍या कहा?

हिमाचल उपचुनाव भाजपा और कांग्रेस के नेता लगातार बयानबाजी कर रहे हैं.

हिमाचल उपचुनाव भाजपा और कांग्रेस के नेता लगातार बयानबाजी कर रहे हैं.

Himachal By-election: हिमाचल प्रदेश में 30 अक्‍टूबर को मंडी लोकसभा के साथ अर्की विधानसभा, जुब्बल-कोटखाई विधानसभा और फतेहपुर विधानसभा सीट के लिए मतदान होगा. इस वक्‍त राज्‍य की सत्‍ता पर काबिज भाजपा (BJP) और विपक्ष की भूमिका में बैठी कांग्रेस (Congress) के नेता जमकर प्रचार कर रहे हैं. वहीं, इस दौरान जनता और विकास के मुद्दों के बजाए लगातार विवादित बयान आ रहे हैं. जानें अब तक किसने क्‍या कहा.

अधिक पढ़ें ...

    शिमला/मंडी. हिमाचल प्रदेश (Himachal By-election) में मंडी लोकसभा समेत तीन विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में जीत हासिल करने के लिए भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के तमाम नेता अपना पूरा जोर लगा रहे हैं. सबसे पहले मंडी लोकसभा उपचुनाव में उतरीं कांग्रेस प्रत्‍याशी प्रतिभा सिंह ने भाजपा के उम्‍मीदवार ब्रिगेडियर खुशाल सिंह ठाकुर को लेकर विवादित बयान दिया था. इसके बाद विवादित बयानों (Controversial Statement) की बाढ़ सी आ गयी है और ऐसा लग रहा है, जैसे जनता के मुद्दे पीछे छूटते नजर आ रहे हैं.

    हिमाचल के पूर्व सीएम स्‍वर्गीय वीरभद्र सिंह की पत्‍नी प्रतिभा सिंह ने कहा था कि करगिल युद्ध कोई बड़ा युद्ध नहीं था. हमारी जमीन पर पाकिस्तानियों ने कब्जा किया था, जिन्हें हटाने का काम किया गया. उसमें किसी ने भाग लिया हो तो वह कोई बड़ी बात नहीं थी. कारगिल युद्ध छोटी लड़ाई थी. इसके बाद विवादति बयानबाजी की जो हवा चली वह अभी तक जारी है.

    जवाहर सिंह के बाद सतपाल सिंह सत्ती भी मैदान में कूदे
    भाजपा विधायक जवाहर सिंह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहते कहा था कि हमारी माताएं बहनें, जिनका पति इस श्रृष्टि में नहीं रहते हैं, वो कम से कम एक साल तक मातम मनाती हैं. यह मामला अभी थमा नहीं था कि भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष नेता सतपाल सिंह सत्ती (Satpal Singh Satti) ने फतेहपुर उपचुनाव के प्रचार के दौरान कहा कि अभी वीरभद्र सिंह को स्वर्ग सिधारे दो-अढ़ाई महीने हुए हैं और हमारे परिवारों में जब किसी के पति की मौत हो जाती है, महिलाएं घर से बाहर नहीं निकलती हैं. सत्ती ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने प्रतिभा सिंह इतना मजबूर कर दिया, जब उनके ध्यान में आया कि मंडी संसदीय क्षेत्र में जयराम ठाकुर का डंका बज रहा है, तो उनको (प्रतिभा) को बयान देना पड़ा कि वह चुनाव लड़ना ही नहीं चाहती है, उन्हें पार्टी ने जबरदस्ती लड़ा दिया. हालांकि सीएम जयराम ठाकुर ने अपने नेताओं को जोश में होश ने खोने की हिदायत दी है.

    पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने उछाला राम स्वरूप शर्मा का मामला
    पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने भी भाजपा नेता राम स्वरूप शर्मा की आत्‍महत्‍या का मामला उठाकर माहौल गरमा दिया है. उन्‍होंने शनिवार को द्रंग विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान कटौला में आयोजित चुनावी जनसभा के दौरान कहा कि राम स्वरूप शर्मा की आत्महत्या की तो कांग्रेस ने सीबीआई जांच करवाने की मांग उठाई थी, लेकिन सरकार ने यह कहकर इस मांग को खारिज कर दिया कि अगर परिवार वाले कहेंगे तो ही जांच करवाई जाएगी. आज परिवार वाले खुद जांच की मांग कर रहे हैं और भाजपा सरकार इस पर चुप्पी साधे हुए है.

    चुनाव में ‘रावण’ की भी हुई एंट्री
    दशहरे के दिन प्रतिभा सिंह के लिए प्रचार के दौरान कांग्रेस की नेता आशा कुमारी सीएम जयराम ठाकुर और भाजपा के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी, जिसमें प्रतिभा सिंह को ‘मजबूर’ कहा गया और मजूबरी में चुनाव लड़ने की बात कही गई. कांग्रेस नेता ने कहा कि रावण ने भी सीता माता को मजबूर समझा था, लेकिन सीता माता मजबूर, नहीं मजबूत थी. बाद में रावण का क्या हाल हुआ था. वहीं, उपचुनाव के दौरान प्रतिभा सिंह और दिवंगत वीरभद्र सिंह के के बेटे विक्रमादित्य सिंह के उस पोस्टर को लेकर भी विवाद हुआ था, जिसमें लिखा था कि ‘वोट नहीं, श्रद्धांजलि चाहिए’.

    भाजपा और कांग्रेस के ये दिग्‍गज हैं मैदान में
    भाजपा ने मंडी लोकसभा सीट से ब्रिगेडियर खुशाल सिंह ठाकुर को मैदान में उतारा है. जबकि अर्की विधानसभा सीट से रतन पाल, जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट से नीलम सरैइक और फतेहपुर विधानसभा सीट से बलदेव ठाकुर मैदान में हैं. वहीं, कांग्रेस ने मंडी लोकसभा सीट से प्रतिभा वीरभद्र सिंह को प्रत्याशी बनाया है. इसके अलावा फतेहपुर विधानसभा सीट से भवानी सिंह, अर्की विधानसभा सीट से संजय अवस्थी और जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट से रोहित ठाकुर दम भर रहे हैं.

    Tags: Bjp government, By-elections, CM Jai Ram Thakur, Himachal news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर