कांग्रेस नेता आश्रय का ऑफर, हिमाचल सरकार के 5 विकास कार्य बताओ और नकद इनाम ले जाओ

मंडी में आश्रय शर्मा.
मंडी में आश्रय शर्मा.

आश्रय शर्मा ने कहा कि लोकसभा चुनावों में भाजपा को प्रचंड बहुमत मिला और सदर क्षेत्र की जनता ने भी उसमें अपनी भागीदारी निभाई, लेकिन आज सदर क्षेत्र की जनता के साथ भेदभाव किया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 7:41 PM IST
  • Share this:
मंडी. हिमाचल (Himachal Pradesh) की राज्य सरकार के पांच विकास कार्य बताओ और नकद इनाम दे जाओ. सरकार के तीन वर्षों के कार्यकाल पर तंज कसते हुए यह ऑफर दी है कांग्रेस के प्रदेश महासचिव एवं पूर्व में मंडी (Mandi) सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी रहे आश्रय शर्मा ने. मंडी में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए आश्रय शर्मा (Aashray Sharma) ने कहा कि राज्य सरकार के तीन वर्षों में सिर्फ हवा-हवाई बातें ही हुई हैं, जबकि धरातल पर एक भी काम नहीं हुआ है.

क्या बोले आश्रय
आश्रय ने कहा कि क्लस्टर यूनिवर्सिटी, मेडिकल यूनिवर्सिटी, 24 घंटे पानी की स्कीम, संस्कृति सदन, ब्यास नदी पर पुल और अन्य विकास कार्य पूर्व में रही कांग्रेस सरकार के समय में हुए हैं, जो काम अधूरे थे उनके आज भाजपा नेता फीता काटकर वाहवाही लूटने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि तीन वर्षों के कार्यकाल में सरकार एक भी विकास का काम नहीं करवा पाई है. आश्रय ने खुली ऑफर देते हुए कहा कि जो भी व्यक्ति इन्हें सरकार के पांच विकास कार्य बता देगा वह उसे अपनी तरफ से दो हजार का नकद इनाम देंगे.

भाजपा को मिला था बहुमत
आश्रय शर्मा ने कहा कि लोकसभा चुनावों में भाजपा को प्रचंड बहुमत मिला और सदर क्षेत्र की जनता ने भी उसमें अपनी भागीदारी निभाई, लेकिन आज सदर क्षेत्र की जनता के साथ भेदभाव किया जा रहा है. सदर क्षेत्र के विकास के लिए जो पैसा आ रहा है, उसे डायवर्ट करके सराज भेजा जा रहा है. कोटली कॉलेज के निर्माण के लिए जो पैसा आया था, उसे सराज में शिफ्ट कर दिया गया है. वहीं सदर और जोगिंद्रनगर क्षेत्रों के बीच बहने वाली ब्यास नदी पर लगने वाले 191 मेगावॉट के हाईड्रो पॉवर प्रोजेक्ट को भी सांसद महोदय केंद्र की ऐजैंसी को देने की वकालत कर रहे हैं. इन्होंने मांग उठाई है कि इस प्रोजेक्ट को राज्य सरकार खुद बनाए और लोगों को रोजगार मुहैया करवाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज