मंडी में कांग्रेस की हार पर मंथन: फिर EVM पर फोड़ा ठीकरा

हार की समीक्षा बैठक में कांग्रेसी नेताओं ने जमकर अपना गुब्बार निकाला और हार की खामियां गिनाते हुए उनमें ठोस सुधारों की मांग उठाई.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 5, 2019, 10:07 AM IST
मंडी में कांग्रेस की हार पर मंथन: फिर EVM पर फोड़ा ठीकरा
सांकेतिक तस्वीर.
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 5, 2019, 10:07 AM IST
हिमाचल प्रदेश की मंडी संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस की हार सीएम और पीएम के नाम पर मांगे गए सहयोग के कारण हुई है. क्योंकि यहां से सांसद और भाजपा प्रत्याशी के प्रति न सिर्फ आम जनता, बल्कि भाजपा नेताओं में भी खासी नाराजगी थी.

हार के बाद मंडी जिला कांग्रेस कमेटी की पहली समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंडी आए तो उन्होंने अपने लिए सहयोग मांगा था, जबकि भाजपा प्रत्याशी का जिक्र तक नहीं किया था.

लोगों की सीएम से भावनाएं जुड़ी
कौल सिंह ने कहा कि मंडी के लोगों की सीएम के भी भावनाएं जुड़ी थी, जिस कारण यहां अधिकतर मतदाताओं ने भाजपा के पक्ष में वोट डाले हैं. उन्होंने कहा कि जीत और हार होती रहती है, लेकिन पार्टी को फिर से मजबूत करना और हर कार्यकर्ता को साथ लेकर चलने पर अधिक ध्यान दिया जाएगा, ताकि 2022 के विधानसभा चुनावों में हार का बदला लिया जा सके.

ईवीएम पर शंका जताई
पूर्व मंत्री प्रकाश चौधरी ने कहा कि 1977 के दौर में कांग्रेस का देश भर से सफाया हो गया था, लेकिन कांग्रेस ने फिर से अपनी ताकत दिखाई थी और आज उसी ताकत को फिर से दिखाने का समय आ गया है. उन्होंने ईवीएम पर भी शंका जाहिर की. प्रकाश चौधरी ने कहा कि उनके अपने पोलिंग बूथ पर भाजपा को कभी 100 वोट भी नहीं पड़े और आज वहां से भाजपा को लीड मिलना आर्श्च्यजनक बात है. उन्होंने कहा कि ईवीएम को लेकर देश भर में सवाल उठाए जा रहे हैं और इनकी जांच होना जरूरी है. वहीं हार की समीक्षा बैठक में कांग्रेसी नेताओं ने जमकर अपना गुब्बार निकाला और हार की खामियां गिनाते हुए उनमें ठोस सुधारों की मांग उठाई.

ये भी पढ़ें: कसोल में ट्रैकिंग को निकले युवक-युवती 3 दिन जंगल में भटके
शराब पर सैस से हिमाचल में पहाड़ी सिनेमा को बढ़ावा देगी सरकार

8.32 लाख कैश से भरी ATM मशीन उखाड़ कर ले गए लुटेरे

BJP के पक्ष मे किया प्रचार, HPU प्रो. प्रमोद शर्मा सस्पेंड

हिमाचल में बारिश,आंधी और ओलावृष्टि, 700 साल पुराना पेड़ टूटा

हिमाचल में EPF के दायरे में आएंगी सभी सरकारी संस्थाएं
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...