हिमाचल: साइबर पुलिस की बड़ी कामयाबी, ठग लिए 25 लाख रुपये पीड़ित को वापस मिले
Mandi News in Hindi

हिमाचल: साइबर पुलिस की बड़ी कामयाबी, ठग लिए 25 लाख रुपये पीड़ित को वापस मिले
हिमाचल में साइबर क्राइम.

पीड़ित शख्स ने बैंक खाते में वापिस लौटी राशि के बाद हिमाचल प्रदेश साइबरक्राइम के साथ प्रदेश पुलिस के मुख्य संजय कुंडू सहित सीएम जयराम ठाकुर का आभार जताया है.

  • Share this:
सुंदरनगर (मंडी). हिमाचल प्रदेश की साइबर क्राइम (Cyber Crime) टीम के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है. एक वर्ष के बाद 25 लाख रुपये की ऑनलाइन (Online) ठगी करने वाले रैकेट का पर्दाफाश किया है. अहम बात है कि ठगी के बाद पुलिस (Police) ने पीड़ित को उसके पैसे वापिस करवाए हैं.

मंडी (Mandi) के उपमंडल बल्ह के गांव स्याह पीड़ित ठेकेदार भवन कुमार के साथ यह ठगी हुई थी. पुलिस ने 2 आरोपियों को पश्चिम बंगाल और बिहार से गिरफ्तार किया गया है. इनमें पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में रहने वाला विशाल कुमार पाल और बिहार के बेगुसराय में रहने वाला प्रद्युमन उर्फ करण पंडित शामिल है.

आरोपियों को शिमला लाई पुलिस
पुलिस ने छापामारी कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर शिमला लाया गया है. शिकायतकर्ता ने एक वर्ष पहले बल्ह पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज की गई थी. आनलाईन ठगी केस को साइबर क्राइम पुलिस थाना शिमला को जांच के लिए ट्रांसफर किया गया था.
ऐसे हुई थी ठगी


शिकायतकर्ता भवन कुमार के पीएनबी के खाते में 25 लाख 74 हजार 435 रुपये आ गए हैं. भवन कुमार ने कहा कि जुलाई 2019 में आनलाइन ठगी के शिकार हुए थे. उन्होंने कहा कि वे एटीएम से 10 हजार रुपए निकालने गए थे. लेकिन पूरी प्रक्रिया के बाद भी एटीएम से पैसे नहीं निकले. इस पर ठेकेदार ने बैंक के टोल फ्री नंबर पर इसकी शिकायत दी गई. इसके अगले दिन अज्ञात नंबर से ठेकेदार को एक फोन आया। फोन करने वाले ने अपने आप को बैंक का अधिकारी बताया और उससे खाते से लिंक मोबाइल नंबर और डैबिट कार्ड की जानकारी ले ली.

मोबाइल को पोर्ट किया
इसके बाद आरोपियों ने ठेकेदार के एयरटेल के मोबाइल नंबर को फर्जी केवाईसी पर वोडाफोन नंबर में पोर्ट कर दिया. इसके उपरांत मोबाइल नेट बैंकिंग के माध्यम से शिकायतकर्ता के 2 खातों से लगभग 25 लाख रुपए की राशि ई-वॉलेट, पेटीएम सहित अन्य पर ट्रांसफर कर दी और बाद में यह राशि किसी बैंक के 20 से 25 खातों में डाल दी गई. ठेकेदार को जब सिम बदलने का पता चला, तब तक शातिर उनके साथ लाखों की ठगी कर चुके थे. मामले को लेकर शिकायतकर्ता द्वारा मामले की शिकायत बल्ह पुलिस थाना में दर्ज करवाई गई थी, जिसमें प्रदेश साईबर क्राईम पुलिस थाना को जांच के दौरान बड़ी सफलता हाथ लगी है. पीड़ित शख्स ने बैंक खाते में वापिस लौटी राशि के बाद हिमाचल प्रदेश साइबरक्राइम के साथ प्रदेश पुलिस के मुख्य संजय कुंडू सहित सीएम जयराम ठाकुर का आभार जताया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज