लाइव टीवी

हिमाचल: भारी बर्फबारी से कमरूनाग व पराशर झील जमीं, जनजीवन अस्त व्यस्त

Virender Bhardwaj | News18 Jharkhand
Updated: December 14, 2019, 4:27 PM IST
हिमाचल: भारी बर्फबारी से कमरूनाग व पराशर झील जमीं, जनजीवन अस्त व्यस्त
भारी बर्फबारी के चलते कमरूनाग व पराशर झील जम चुकी हैं.

भारी बर्फबारी के चलते कमरूनाग (Kamroonaga Lake) व पराशर झील (Parashar Lake) जम गई हैं. कमरूनाग व पराशर झील में करीब एक फुट से अधिक ताजा हिमपात दर्ज किया गया है. वहीं, जंजैहली घाटी में छह इंच से एक फुट तक ताजा हिमपात हुआ है.

  • Share this:
मंडी. भारी बर्फबारी के चलते कमरूनाग (Kamrunag Lake) व पराशर झील (Parashar Lake) जम (Fridge) गई हैं. इन झीलों का नजारा देखकर हर कोई आकर्षित हो रहा है. हालांकि यहां आने-जाने के लिए पर्यटकों को अभी मनाही है. वर्तमान में यहां जाना जान जोखिम में डालना हो सकता है. कमरूनाग व पराशर झील में करीब एक फुट से अधिक ताजा हिमपात (Snowfall) दर्ज किया गया है. वहीं, जंजैहली घाटी में छह इंच से एक फुट तक ताजा हिमपात हुआ है. हालांकि, इस बर्फबारी से बागवान गदगद हैं, लेकिन यह बर्फबारी दुश्वारियां साथ लेकर आई हैं. मंडी जिला के उपरी कई इलाकों में भारी बर्फबारी से सड़क, पानी व बिजली सेवाएं बाधित हो गई हैं, जिन्हें बहाल कराने में प्रशासनिक अमला सक्रिय हो गया है.

बुनियादी सुविधाओं को बहाल करने में जुटा अमला

बीते दो दिनों तक जारी रहा बर्फबारी के दौर से बाधित हुई सेवाओं को सुचारू करने में विभागीय टीमों को दिक्कतें पेश आईं. शनिवार को मौसम खुलने पर अलग—अलग विभाग टीमों ने युद्ध स्तर पर अपना काम शुरू कर दिया. उम्मीद जताई जा रही है कि देर शाम तक कई इलाकों में बिजली, सड़क व पानी सेवाएं पूरी तरह से चालू हो सकती हैं.

Parashar lake
कमरूनाग व पराशर झील में करीब एक फुट से अधिक ताजा हिमपात दर्ज किया गया है.


बर्फबारी के चलते किसानों को होंगे ये फायदे

बागवान मनसा राम ने बताया कि बीते तीन वर्षों से बर्फबारी से अच्छी व सही समय पर हो रही है. बर्फबारी के चलते फसल के अच्छी होने की उम्मीद है. उन्होंने कहा कि दिसंबर माह में हो रही बर्फबारी से खेतों में चूहे की समस्या भी खत्म हो जाती है. बर्फबारी के बाद घास की पैदावर अच्छी होती है. उन्होंने बताया कि यह बर्फबारी फसलों के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है. यह भी सच है कि बर्फबारी दुश्वारियां लेकर भी आती है, लेकिन बागवानों के लिए बर्फबारी बेहद जरूरी है, ताकि फसल अच्छी हो सके. उन्होंने बताया कि बर्फबारी अच्छी होने से पानी की कमी भी नहीं होती है.

यहां भी पढ़ें: शिमला पुलिस ने रातभर रेस्क्यू चलाकर बर्फबारी में फंसे सैकड़ों लोगों की बचाई जानबर्फबारी के चलते सदन की कार्यवाही देर से हुई शुरू, होटल में फंसे रहे कई MLA

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 4:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर