• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल: PWD में फंसे पति के 11 करोड़ रुपये, कद्दावर मंत्री महेंद्र सिंह की बेटी धरने पर बैठी

हिमाचल: PWD में फंसे पति के 11 करोड़ रुपये, कद्दावर मंत्री महेंद्र सिंह की बेटी धरने पर बैठी

धर्मपुर स्थित लोक निर्माण के कार्यालय में उनके 11 करोड़ से अधिक की राशि के बिल लंबित पड़े हैं

धर्मपुर स्थित लोक निर्माण के कार्यालय में उनके 11 करोड़ से अधिक की राशि के बिल लंबित पड़े हैं

Mandi News: हिमाचल सरकार के कद्दावर मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर की बेटी मधु भंडारी को अपने पति के बिलों का भुगतान करवाने के लिए धरने पर बैठना पड़ा है. वहीं, लोनिवि मंडल धर्मपुर के अधिशाषी अभियंता जयपाल नायक का कहना है कि विभाग सभी को रूटीन में बिलोंं की अदायगी कर रहा है.

  • Share this:

मंडी. हिमाचल प्रदेश सरकार के कद्दावर मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर की बेटी को अपने पति के बिलों का भुगतान करवाने के लिए धरने पर बैठना पड़ा है. मधु भंडारी ने लोक निर्माण विभाग के धर्मपुर स्थित अधिशाषी अभियंता के कार्यालय के बाहर दिन भर धरने पर बैठकर बिलों के भुगतान की गुहार लगाई. जबकि मामला चर्चा का केंद्र बन गया है.

बता दें कि मधु भंडारी महेंद्र सिंह ठाकुर की छोटी बेटी है और उनकी शादी जोगिंद्रनगर उपमंडल के तहत आने वाले भराडू गांव निवासी संजीव भंडारी से हुई है, जोकि पेशे से ठेकेदार हैं. मधु का कहना है कि धर्मपुर स्थित लोक निर्माण के कार्यालय में उनके 11 करोड़ से अधिक की राशि के बिल लंबित पड़े हैं, जिनका भुगतान नहीं किया जा रहा है. यह सभी कार्य इसी कार्यालय के तहत हुए थे और इन कार्यों को पूरा किया जा चुका है.

कहां-कहां काम किया और कितना पैसा फंसा
मधु ने बताया कि बरैहल सड़क के 1.70 करोड, छेज गवाला सड़क के 1.56 करोड़, प्रौन रांगड़ सड़क के 4.80 करोड़, ऊभक बनेरड़ी कांडापतन सड़क के 2.50 करोड़ के कार्य पूर्ण कर चुके हैं. इन कार्यों को पूरा किए हुए कई वर्ष बीत गए हैं, लेकिन विभाग इसकी अदायगी नहीं कर रहा है. अधिशाषी अभियंता लोक निर्माण विभाग मंडल धर्मपुर को कई बार लिखित और मौखिक निवेदन किया गया लेकिन लंबित बिलों की अदायगी आज दिन तक नहीं हो पाई है जिस कारण मजबूरन उन्हें धरने पर बैठना पड़ा है.

धर्मपुर स्थित लोक निर्माण के कार्यालय में उनके 11 करोड़ से अधिक की राशि के बिल लंबित पड़े हैं.

कुछ हुआ तो विभाग जिम्मेदार
वहीं, मधु ने यह चेतावनी भी दी है कि अगर कल को उनके परिवार या उन्हें कुछ हो जाता है तो उसके लिए लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता जिम्मेदार होंगे. बता दें कि कुछ दिन पहले मधु के पति ठेकेदार संजीव भंडारी भी यहीं पर धरने पर बैठकर अदायगी की गुहार लगा चुके हैं. उन्हें अधिशाषी अभियंता ने आश्वासन देकर धरने से उठा दिया था, लेकिन जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो फिर अब उनकी पत्नी यानी मंत्री की बेटी को धरने पर बैठना पड़ा है. जब इस बारे में लोनिवि मंडल धर्मपुर के अधिशाषी अभियंता जयपाल नायक से बात की गई तो उन्होंने कहा कि विभाग सभी को रूटीन में बिलोंं की अदायगी कर रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज