Home /News /himachal-pradesh /

दिवाली से पहले कीरतपुर-मनाली हाईवे पर 8वीं टनल के दोनों छोर मिले, जल्द पूरा होगा काम

दिवाली से पहले कीरतपुर-मनाली हाईवे पर 8वीं टनल के दोनों छोर मिले, जल्द पूरा होगा काम

कंपनी ने कीतरपुर-मनाली फोरलेन प्रोजेक्ट में पंडोह से औट तक बन रही 10 टनलों में से 8वीं टनल का ब्रेकथ्रू कर दिया.

कंपनी ने कीतरपुर-मनाली फोरलेन प्रोजेक्ट में पंडोह से औट तक बन रही 10 टनलों में से 8वीं टनल का ब्रेकथ्रू कर दिया.

Kiratpur-Manali Four-lane Constructions: हिमाचल प्रदेश के मनाली-कीरतपुर फोरलेन पर मंडी जिले में पंडोह के पास दस टनल्स का निर्माण कार्य जोरों पर चल रहा है. काम पूरा होने के बाद मनाली पहुंचना और आसान हो जाएगा और समय की बचत होगी.

मंडी. हिमाचल प्रदेश में मंडी जिले में दीपावली से एक दिन पहले एफकॉन्स कंपनी ने बड़ा काम करते हुए 8वीं टनल के दोनों छोर आपस में मिला दिए. कीरतपुर-मनाली फोरलेन (Kiratpur-manali Fourlane) प्रोजेक्ट में पंडोह से औट तक बन रही 10 टनलों में से 8वीं टनल का ब्रेकथ्रू कर दिया. यह ब्रेकथ्रू एनएचएआई के साइट इंजीनियर नरेंद्र कुमार के हाथों करवाया गया. उन्होंने कंपनी प्रबंधन को बधाई दी और कार्य के जल्द पूरा होने की उम्मीद जताई.

एफकॉन्स कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर आरके सिंह ने बताया कि 8वीं टनल बनाने के काम में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा और इसके ब्रेकथ्रू में तय समय से एक साल ज्यादा लग गया. उन्होंने बताया कि इस टनल का डायामीटर काफी बड़ा है. आरके सिंह ने बताया कि 8 टनलों के ब्रेकथ्रू होने के साथ-साथ अधिकतर टनलों का निर्माण कार्य लगभग पूरा कर लिया गया है. जो कार्य बचा है उसे सितंबर 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा.

शुरुआत की दो टनलों के निर्माण कार्य में थोड़ी देरी हुई है, लेकिन उस कार्य को भी दिसंबर 2023 तक हर हाल में पूरा कर लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि कंपनी ने सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा है और अभी तक एक भी हादसा नहीं हुआ है, जो बड़ी बात है. मौके पर शाहपुरजी पलोनजी और आई कंपनी के अधिकारी और इंजीनियर भी मौजूद रहे.

Tags: Himachal Government, Himachal pradesh, Manali, Mandi City, Mandi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर