अपना शहर चुनें

States

हिमाचल में BDC चुनाव का सबसे रोमांचक नतीजा; टाईब्रेकर में जीते Ph.D पासआउट चंद्रकात शर्मा

जीत के बाद अपने गांव के युवाओं के साथ चंद्रकांत शर्मा.
जीत के बाद अपने गांव के युवाओं के साथ चंद्रकांत शर्मा.

Himachal Panchayat Elections: पीएचडी पासआउट चंद्रकांत शर्मा सब-तहसील मंडप के ब्रह्मफाल्ड गांव से संबंध रखते हैं. वह पहली बार किसी चुनाव में हिस्सा ले रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 10:47 AM IST
  • Share this:
धर्मपुर (मंडी). हिमाचल प्रदेश में 21 जनवरी को पंचायत चुनाव (Panchayat Elections) खत्म हो गए थे. वहीं, 22 जनवरी को जिला परिषद और बीडीसी सदस्यों का चुनाव परिणाम घोषित किया गया. हालांकि, कुछ इलाकों में अब भी परिणाम आ रहे हैं. लेकिन मंडी (Mandi) जिले के धर्मपुर इलाके में बीडीसी चुनाव(BDC Elections) के लिए मंडप-लंगेहड़ और चौकी पंचायतों में बीडीसी (BDC Ward) वार्ड नंबर-12 से रोमांचक मुकाबला देखने को मिला.

हिमाचल प्रदेश में इस तरह के मुकाबले काफी कम देखने को मिले हैं. यहां पर पर्ची के जरिये चंद्रकांत शर्मा (Chandrakan Sharma) को विजेता घोषित किया गया. क्योंकि उनके विरोधी और उनके बीच मुकाबला टाई हो गया था. दोनों को 691-691 वोट मिले और मुकाबला टाई रहा.

एक वोट को लेकर हुआ विवाद
चुनाव परिणाम के दौरान एक वोट पर काफी विवाद रहा. दरअसल, हुआ यूं कि चंद्रकांत को 691 और दूसरे नंबर पर रहे राकेश गुलेरिया के 690 मत मिले. एक वोट में निशान के सामने नाम राकेश गुलेरिया, जबकि नाम मनोज ठाकुर का था. इस मत पर विवाद हो गया. बाद में इस मत को वैध माना गया और यह राकेश गुलेरिया के खाते में गया. फिर दोनों उम्मीदवारों की सहमति पर पर्ची डाली गई, जिसमें चंद्रकांत का नाम आया और वह विजयी बने.
किसे मिले कितने वोट


चंद्रकांत शर्मा को जहां 691 वोट मिले. वहीं, राकेश गुलेरिया को भी 691 मत पड़े. इसी कड़ी में तीसरे नंबर पर चौकी से संबंध रखने वाले मनोज ठाकुर को 677 वोट मिले. वहीं, चौथे नंबर पर ग्यूण गांव के डोला राम को 601 वोटों से संतोष करना पड़ा. वहीं, मंडप गांव से पूर्व बीडीसी सदस्य सलोचना देवी को 174 और मोहन ठाकुर को 133 वोट पड़े.

क्या बोले चंद्रकांत
जीते के बाद मंडप पहुंचे चंद्रकात शर्मा ने सभी मतदाताओं का आभार जताया और बताया कि मुकाबला टाई हो गया था. बाद में पर्ची के जरिये परिणाम घोषित हुआ. जीत के बाद उन्होंने राहत की सांस ली है. पीएचडी पासआउट चंद्रकांत शर्मा सब-तहसील मंडप के ब्रह्मफाल्ड गांव से संबंध रखते हैं. वह पहली बार किसी चुनाव में हिस्सा ले रहे थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज