हिमाचली बेटी ने बनाई लाइफ सेविंग जैकेट, बाइक हादसे में बचाने का दावा
Mandi News in Hindi

हिमाचली बेटी ने बनाई लाइफ सेविंग जैकेट, बाइक हादसे में बचाने का दावा
लाइफ सेविंग जैकेट के साथ प्रगति.

प्रगति शर्मा का कहना है कि उनका एक सहपाठी चंडीगढ़ में बाइक दुर्घटना में अपनी जान गंवा बैठा, जिसका उन्हें बहुत दुख हुआ. उसी दिन उन्होंने इस प्रकार की जैकेट तैयार करने का निर्णय लिया

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
हिमाचल की बेटी ने अपने हुनर का जौहर दिखाया है. सड़क हादसे के लिए जीवनदायनी जैकेट बनाई है. मामला हिमाचल के सुंदरनगर का है. यहां की प्रगति शर्मा ने जो लाइफ सेविंग जैकेट तैयार की है, जो बाइक दुर्घटना होने पर चालकों की जान बचाएगी ऐसा दावा उन्होंने किया है. प्रगति ने यह जैकेट अपने संस्थान के प्रोजेक्ट के दौरान तैयार की है.

वायु जैकेट दिया नाम
प्रगति शर्मा राष्ट्रीय फैशन प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर, गुजरात में अध्ययन कर रही हैं. इस दौरान उन्होंने यह लाइफ सेविंग जैकेट बनाई इस जैकेट को उन्होंने जीवन सुरक्षा बाइक ‘वायु जैकेट’ नाम दिया है. इस जैकेट को बनाने के लिए प्रगति ने संस्थान में प्रथम 5 छात्र-छात्राओं में स्थान पाकर पुरस्कार प्राप्त किया है. यह जैकेट जनकल्याण हेतु न्यूनतम मूल्य पर अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने का प्रयास किया गया है, जिसका लाभ आने वाले समय में अधिक से अधिक लोगों को मिलेगा.

जैकेट पहने हुए प्रगति शर्मा.




सहपाठी की मौत के बाद मिली प्रेरणा


प्रगति शर्मा का कहना है कि उनका एक सहपाठी चंडीगढ़ में बाइक दुर्घटना में अपनी जान गंवा बैठा, जिसका उन्हें बहुत दुख हुआ. उसी दिन उन्होंने इस प्रकार की जैकेट तैयार करने का निर्णय लिया. उसके परिणाम स्वरूप उन्होंने अपने प्रोजेक्ट में यह जैकेट तैयार की. प्रगति ने बताया कि 3 महीने के कड़े परिश्रम के बाद जीवन सुरक्षा बाइक वायु जैकेट को तैयार किया गया है. प्रगति की इस उपलब्धि से सुंदरनगर और राष्ट्रीय फैशन प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर का नाम पूरे देश भर में रोशन हुआ है और जल्द ही जैकेट के लांच होते ही प्रगति की कामयाबी का डंका पूरे देश के साथ विश्व स्तर पर छाने वाला हैं.

इन्हें दिया श्रेय
प्रगति ने बताया कि अगस्त में दिल्ली में जैकेट प्रदर्शनी के लिए रखी जाएगी. इस प्रदर्शनी में कपड़ा उद्योग मंत्री स्मृति ईरानी भी मौजूद रहेंगी. प्रगति ने अपनी सफलता का श्रेय माता रजनी शर्मा, पिता सुदेश कुमार शर्मा और भाई प्रशांत के साथ संस्थान के शिक्षकों को दिया है. प्रगति की माता रजनी शर्मा ने बताया की बेटी की कामयाबी से बहुत ख़ुश हैं. बेटी ने अपने दोस्त की मौत के बाद इंसानियत के नाते एक जैकेट तैयार की. उन्होंने कहा की बेटी को जैकेट तैयार करने समय बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा और 24 घंटे में से 20 घंटे जैकेट को तैयार करने में लगी रहती थी. जहां पर परिवार की सहायता की जरूरत होती थी. वहां पर परिवार ने भी पूरा सहयोग किया है.

राष्ट्रीय फैशन प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर,गुजरात में पढ़ती हैं प्रगति.


हार नहीं मानी
प्रगति के भाई प्रशांत ने बताया कि जब प्रगति को जैकेट बनाने का आइडिया आया तो उसने डिस्कस किया. आइडिया सुनने में अच्छा था, लेकिन बहुत मुश्किल लग रहा था. फिर भी प्रगति ने हार नहीं मानी और माता-पिता के सहयोग से इस मुकाम को हासिल किया है.

यह भी पढ़ें:

मनाली-लेह मार्ग पर दौड़े वाहन, 8 माह बाद 476 किमी हाईवे बहाल

Exclusive: हिमाचल में हर 31वें घंटे में एक महिला से रेप

‌हमीरपुर में दीवार फांदकर बाल आश्रम से चार बच्चे फरार

शिमला: दो छात्रों सहित तीन युवक चिट्टे के साथ गिरफ्तार

प्रदीप को हो गया था मौत का अहसास, मां को याद कर खूब रोया

कुल्लू की मणिकर्ण घाटी में रास्ता भटके दो इजरायली ट्रैकर
First published: June 10, 2019, 5:55 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading