मंडी: 53 वर्षीय मां किडनी देने को तैयार, लेकिन इलाज के लिए 6 लाख की दरकार

सुषमा देवी पिछले दो वर्षों से किडनी की बीमारी से जूझ रही है.
सुषमा देवी पिछले दो वर्षों से किडनी की बीमारी से जूझ रही है.

Kidney Patient cry for Help in Mandi: परिवार का मुखिया प्राईवेट स्कूल में जॉब करता है, जहां से मिलने वाले पैसों से घर का खर्च चलाना भी मुश्किल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 11:29 AM IST
  • Share this:
मंडी. 53 साल की मां अपनी 41 वर्षीय बेटी को नई जिंदगी देने के लिए अपनी किडनी देने के लिए तैयार बैठी है, लेकिन किडनी ट्रांसप्लांट (Kidney Transplan) सहित अन्य उपचार पर 6 लाख का खर्च आना है. उसे वहन कर पाना इस परिवार के बस में नही है. परिजनों ने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) और सरकार से मदद की गुहार लगाई है.

सीएम सिटी का मामला
हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर के गृह जिले मंडी शहर के साथ लगते मलोरी गांव निवासी 41 वर्षीय सुषमा देवी पत्नी राज कुमार पिछले दो वर्षों से किडनी की बीमारी से जूझ रही है. सुषमा की दोनों किडनियां खराब हो चुकी हैं. ऐसे में सुषमा को नई जिंदगी देने के लिए उनकी 53 वर्षीय मां टेकी देवी ने अपनी एक किडनी देने का निर्णय ले लिया है. यह सारा ईलाज जालंधर स्थित किडनी हास्पिटल से चल रहा है. पूरे ईलाज पर 6 लाख रूपए खर्च होने हैं. परिवार का मुखिया प्राईवेट स्कूल में जॉब करता है, जहां से मिलने वाले पैसों से घर का खर्च चलाना भी मुश्किल है. ऐसे में इलाज कैसे करवाएं यह चिंता परिवार को दिन रात सताए जा रही है.

मदद के लिए आगे आ रहे लोग
न्यू लाईफ लाइन एनजीओ इस परिवार की मदद के लिए आगे आया है. लेकिन सारे उपचार के लिए अभी बहुत से दानी सज्जनों की मदद की दरकार नजर आ रही है. सुषमा के पति राज कुमार और न्यू लाईफ लाइन एनजीओ ने दानी सज्जनों से मदद की गुहार लगाई है. यदि आप इस परिवार की मदद करना चाहते हैं तो फिर सुषमा के पति के खाते में दान की राशि भेज सकते हैं. मदद क लिए खाताधारक राजकुमार के खाता नंबर 3377000404072825, IFS-PUNB0337700, PNB School Bazar, Mandi (HP) पर मदद की जा सकती है. साथ ही इस नबंर पर 9857145587 भी जानकारी जुटाई जा सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज