Assembly Banner 2021

मंडी में बनने वाले शिवधाम का हुआ शिलान्यास, जान लें इस spiritual complex की 5 खास बातें

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज जिस शिवधाम का शिलान्यास किया, वह बनने के बाद कुछ ऐसा दिखेगा.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज जिस शिवधाम का शिलान्यास किया, वह बनने के बाद कुछ ऐसा दिखेगा.

150 करोड़ से बनने वाले इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किया. 9.5 हेक्टेयर में पसरे इस परिसर में पार्किंग से लेकर खाने-पीने तक की सभी सुविधाएं होंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 6:40 PM IST
  • Share this:
मंडी. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jairam Thakur) के ड्रीम प्रोजेक्ट (Dream Project) शिवधाम (Shivdham) का आज मंडी (Mandi) में शिलान्यास हो गया. अब इसके निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. इस शिवधाम पर फिलहाल अनुमानित बजट 150 करोड़ रुपये है. इसके लिए राज्य सरकार ने 40 करोड़ के बजट का प्रावधान भी कर दिया है. 2019 के वार्षिक बजट में सीएम ने शिवधाम के निर्माण का ऐलान किया था, लेकिन फारेस्ट क्लियरेंस के कारण यह प्रोजेक्ट अभी तक लंबित था. सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलते ही आज सीएम जयराम ठाकुर ने इसका विधिवत रूप से शिलान्यास कर दिया.

आपको बता दें कि यह शिवधाम कैसा होगा - इसे बताने के लिए टूरिज्म विभाग ने दो मिनट का एक एनिमेटिड वीडियो भी साझा किया है. टूरिज्म विभाग के इस एनिमेटिड वीडियो के अनुसार, साढ़े 9 हेक्टेयर क्षेत्र में बनने वाले इस स्पीरिचुअल कॉम्पलेक्स का नाम शिवधाम होगा.

शिवधाम की खास-खास 5 बातें
यहां पार्किंग की सुविधा होगी. यह पार्किंग इतनी बड़ी होगी कि यहां सैंकड़ों गाड़ियां एकसाथ खड़ी की जा सकें. शिवधाम में प्रवेश के लिए कैलाश द्वार बनाया जाएगा.
9.5 हेक्टेयर में बने इस शिवधाम में प्रवेश के साथ ही आपको गणेश मंडल के दर्शन होंगे. यहां शिवपुत्र भगवान गणेश की बेहद भव्य प्रतिमा के दर्शन आप कर सकेंगे.
गंगा कुंड होगा, शिव वंदना के नाम से ओरिएंटेशन सेंटर होगा. रूद्रा मंडल और डमरू मंडल होगा, जहां भगवान शिव के डमरू के दर्शन होंगे.
डमरू मंडल के पास खाने पीने की वस्तुएं भी मिलेंगी. मानसरोवर कुंड होगा, मोक्षपथ होगा, विल्वपत्रा कुंड होगा, शिवस्मृति म्यूजियम होगा और एक बड़ा शिवलिंग भी होगा.
शिवधाम में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन भी करवाए जाएंगे और भगवान शिव के साथ माता पार्वती, कार्तिकेय और गणेश भगवान की प्रतिमाएं भी होंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज