श्रम कानूनों में फेरबदल के विरोध में सड़क पर उतरे मजदूर संगठन, दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

देश में श्रम कानूनों में फेरबदल के बिल के विरोध में मजदूर संगठनों ने आज मंडी शहर में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. इस दौरान विभिन्न मजदूर यूनियनों ने मंडी शहर में सीटू के बैनर तले रैली निकाली और केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 2, 2019, 7:31 PM IST
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 2, 2019, 7:31 PM IST
देश में श्रम कानूनों में फेरबदल के बिल के विरोध में मजदूर संगठनों ने आज मंडी शहर में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. इस दौरान विभिन्न मजदूर यूनियनों ने मंडी शहर में सीटू के बैनर तले रैली निकाली और केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की. सीटू ने एडीसी मंडी आशुतोष गर्ग के माध्यम से प्रदेश सरकार को ज्ञापन भेजा और श्रम कानून में फेरबदल न करने की मांग की. सीटू के जिला अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मजदूरों के हकों की हिफाजत करने वाले श्रम कानूनों में बदलाव कर बड़ी कंपनियों को फायदा पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है, जिसे सहन नहीं किया जाएगा.

उन्होंने श्रम कानून के नए प्रस्ताव को श्रमिकों के लिए काला कानून बताया. उन्होंने बताया कि नए प्रस्ताव के तहत 300 से कम मजदूरों वाली कंपनी को ही छंटनी का अधिकार दिया गया है, जो पहले सरकार की देखरेख में था.

केंद्र सरकार को श्रम कानून में बदलाव न करने की दी सलाह

सीटू ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि मजदूरों के हकों के प्रावधानों को श्रम कानूनों से खत्म न किया जाए.


सीटू का मानना है कि नए प्रस्ताव के तहत रोजगार की गारंटी को भी समाप्त किया जा रहा है. इसका प्रभाव देश के साथ-साथ प्रदेश के लाखों मजदूरों पर पड़ेगा. नए श्रम कानून के बिल में मजदूरों के लिए सामाजिक सुरक्षा के प्रावधान में भी बदलाव का प्रावधान है, जो मजदूरों के पक्ष में नहीं है. कंपनियों को अधिकार अधिक दिए जा रहे हैं, जो कि सही नहीं है. बता दें कि इसका दस मजदूर यूनिय विरोध कर रही है.

सीटू ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि मजदूरों के हकों के प्रावधानों को श्रम कानूनों से खत्म न किया जाए. सीटू ने सरकार को चेतावनी दी है कि यदि ऐसा किया जाता है तो आने वाले समय में मजदूर आंदोलन को तेज किया जाएगा.

ये भी पढ़ें - घरों की दीवारों पर करंट फैलने से दहशत, गाय की मौत
Loading...

ये भी पढ़ें - बरसात के चलते बढ़ने लगे स्क्रब टाइफस व मलेरिया के मरीज
First published: August 2, 2019, 5:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...