मंडी अस्पताल में लंगर लगाती है हृदयवासी सेवा समिति, 1 साल में 1.7 लाख लोगों को खिलाया खाना

16 मार्च 2020 से जोनल अस्पताल मंडी (Mandi) में भोजन का लंगर लगाते हुए हृदयवासी सेवा समिति का एक वर्ष पूरा हो गया है.

Langar At Mandi Zonal Hospital:मंडी हृदयवासी भोजन सेवा समिति के संयोजक रमन बिष्ट ने बताया कि बीते वर्ष 16 मार्च 2020 को समिति ने जोनल अस्पताल में लंगर सेवा को शुरू किया था, जिसके बाद लॉकडाउन होने के चलते शहर में ढाबे, रेस्टोरेंट आदि खान पान की दुकानें बंद होने पर समिति ने शुरूआती दिनों में मरीजों के तीमारदारों को तीन वक्त का लंगर भी उपलब्ध करवाया.

  • Share this:
मंडी. 16 मार्च 2020 से जोनल अस्पताल मंडी (Mandi) में भोजन का लंगर लगाते हुए हृदयवासी सेवा समिति का एक वर्ष पूरा हो गया है. इस दौरान कोरोना के कठिन दौर में दानी सज्जनों के सहयोग से इस लंगर में अभी तक 1 लाख 7 हजार से ज्यादा लोग पौष्टिक और शुद्ध खाना खा चुके हैं. अब हृदयवासी सेवा समिति ने इस भोजन (Food) सेवा को आने वाले समय में भी जारी रखने की बात कही है, ताकि जरूरतमंदों को इसका लाभ मिल सके.

मंगलवार को लंगर के एक वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य पर हृदयवासी सेवा समिति द्वारा जोलन अस्पताल मंडी में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस कार्यक्रम में सीएमओ मंडी डाक्टर देवेंद्र शर्मा, एमएस जोनल अस्पताल मंडी धर्म सिंह वर्मा के साथ प्रबंधन के अधिकारियों ने भाग लिया. इस मौके पर दीप प्रज्वलित कर और मां हृदयवासिनी की स्तुति कर भोजन सेवा शुरू की गई. इस दौरान सीएमओ मंडी देवंेद्र शर्मा, एमएस डीएस वर्मा व अन्य ने स्वयं अपने हाथों से लोगों को लंगर बांटा.

प्रयासों की सराहना की
मीडिया से बातचीत के दौरान सीएमओ मंडी ने हृदयवासी सेवा समिति के प्रयासों की सराहना की. उन्होंनें बताया कि समिति द्वारा लगाए गया लंगर कोरोना काल में अस्पताल आने वाले मरिजों के तीमारदारों के लिए वरदान साबित हुआ है. इसके साथ ही अस्पताल स्टॉफ को भी समिति की लंगर सेवा से लाभ मिला. उन्होंने कहा कि समिति ने दीन दुखी और असहाय लोगों को अच्छा और पौष्टिक खाना उपलब्ध करवाया है. वहीं इस मौके पर जोनल अस्पताल मंडी के एमएस डाक्टर धर्म सिंह वर्मा ने कहा कि कोरोना काल के शुरू के दौर में समिति ने बहुत ही सराहनीय कार्य किया है, जिसके लिए उन्होंनें समिति के सभी सदस्यों को बधाई भी दी.
16 मार्च 2020 को लंगर शुरू किया था
मंडी हृदयवासी भोजन सेवा समिति के संयोजक रमन बिष्ट ने बताया कि बीते वर्ष 16 मार्च 2020 को समिति ने जोनल अस्पताल में लंगर सेवा को शुरू किया था, जिसके बाद लॉकडाउन होने के चलते शहर में ढाबे, रेस्टोरेंट आदि खान पान की दुकानें बंद होने पर समिति ने शुरूआती दिनों में मरीजों के तीमारदारों को तीन वक्त का लंगर भी उपलब्ध करवाया. अब एक वर्ष में हृदयवासी सेवा समिति एक लाख सात हजार से ज्यादा लोगों को लंगर खिला चुकी है. उन्होंनें इसके लिए प्रदेश सरकार, जिला प्रशासन, मंडी शहरवासियों, हृदयवासी सेवा समिति के संगठन पदाधिकारियों के साथ दानी सज्जनों का आभार भी जताया है. बिष्ट ने कहा कि इस लंगर को आने वाले समय में भी जारी रखा जाएगा. वहीं भोजन सेवा में सहयोग करने वाले महंत राजेश्वरानंद ने बताया कि कलियुग में अन्न दान का बहुत महत्व है, जिसमें पात्र नहीं देखा जाता है. कार्यक्रम के दौरान लंगर गृहण करने वाले स्थानीय निवासी सुरजीत सिंह ने कहा कि आज के दौर में गरीबों और जरूरतमंदों के लिए इस प्रकार के प्रयास बहुत सराहनीय हैं. उन्होंनें इसके लिए सेवा समिति और भोजन सेवा में जुड़े लोगों का आभार जताया. सुरजीत ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से ही लोगों के दिलों में जनसेवा की भावना जगाई जा सकती है. हृदयवासी सेवा समिति भोजन सेवा के एक वर्ष पूरा होने के कार्यक्रम में मंडी जिला स्वास्थ्य अधिकारी दिनेश, डा. अनुराधा व अन्य भी मौजूद रहे व भोजन सेवा करने के साथ ही लंगर भी ग्रहण किया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.