• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • मंडी उपचुनाव: BJP प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने भरा नामांकन, CM जयराम भी रहे मौजूद

मंडी उपचुनाव: BJP प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने भरा नामांकन, CM जयराम भी रहे मौजूद

भाजपा प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर बोले हाईकमान का आभार, जिन्होंने जताया मुझपर विश्वास

भाजपा प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर बोले हाईकमान का आभार, जिन्होंने जताया मुझपर विश्वास

Mandi By-election: 67 वर्षीय खुशाल ठाकुर को कारगिल युद्ध का हीरो कहा जाता है और इन्हें युद्ध सेवा मेडल का सम्मान मिल चुका है. विदेश में चलाए गए ऑपरेशन खुखरी का भी इन्होंने ही नेतृत्व किया था

  • Share this:

मंडी. हिमाचल प्रदेश की मंडी संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर (Brigadier Khushal Thakur) ने आज निर्वाचन अधिकारी के समक्ष अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया. इस मौके पर उनके साथ सीएम जयराम ठाकुर (Jai Ram Thakur) विशेष रूप से मौजूद रहे. निर्वाचन अधिकारी के पास नामांकन की औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने भाजपा प्रत्याशी की जीत का दावा किया. उन्होंने कहा कि भाजपा ने ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर को उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया है और अब इन्हें जिताकर संसद में भेजा जाएगा. उन्होंने अपनी बात को दोहराते हुए कहा कि मंडी हमारी थी, हमारी है और हमारी ही रहेगी.

भाजपा प्रत्याशी ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने उन्हें टिकट देने के लिए पार्टी हाईकमान का आभार जताया. उन्होंने कहा कि पार्टी ने उन पर जो विश्वास जताया है वे उस पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे. जनता और संगठन के सहयोग से यह सीट फिर से जीतकर भाजपा की झोली में डाली जाएगी.

नामांकन के बाद भाजपा ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए एक जलूस भी निकाला. इसके बाद ऐतिहासिक सेरी मंच पर एक विशाल जनसभा को भी संबोधित किया. इस मौके पर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप, मंडी संसदीय क्षेत्र के चुनाव प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर, सह प्रभारी गोबिंद सिंह ठाकुर और अन्य नेता भी मौजूद रहे.

कौन हैं ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर

ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर मूलतः मंडी जिला के द्रंग विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले नगवाईं गांव के रहने वाले हैं. खुशाल ठाकुर एक सेवानिवृत फौजी हैं और ब्रिगेडियर के पद से सेवानिवृत हुए हैं. 67 वर्षीय खुशाल ठाकुर को कारगिल युद्ध का हीरो कहा जाता है और इन्हें युद्ध सेवा मेडल का सम्मान मिल चुका है. जिस 18 ग्रेनेडियर का इन्होंने कारगिल युद्ध के दौरान नेतृत्व किया उसने तोलोलिंग की पहाड़ी पर कब्जा किया था. इसे ही कारगिल युद्ध की जीत का टर्निंग प्वाईंट माना गया. सबसे ज्यादा मेडल 18 ग्रेनेडियर को ही मिले थे. विदेश में चलाए गए आपरेशन खुखरी का भी इन्होंने ही नेतृत्व किया था.

सेवानिवृति के बाद BJP में हुए शामिल

सेवानिवृति के बाद खुशाल ठाकुर भाजपा में शामिल हो गए 2014 के लोकसभा चुनावों में इनका नाम टिकट के दावेदारों में शामिल हुआ, लेकिन मिला नहीं. उसके बाद इन्होंने फोरलेन प्रभावितों की आवाज बनने का काम किया और फोरलेन प्रभावित संघर्ष समिति के वर्षों तक अध्यक्ष रहे. 2019 में भी नाम प्रमुखता से चला और इन्हें भाजपा ने कवरिंग कैंडिडेट बनाया. मौजूदा समय में इन्हें पूर्व सैनिक कल्याण निगम का चेयरमैन बनाया गया है. अब इन्हें उपचुनावों में भाजपा ने अपना प्रत्याशी घोषित किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज