1985 में देखी बॉलीवुड फिल्म से मिली प्रेरणा, वरिष्ठ नागरिक ने लिया देहदान का फैसला

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 3, 2019, 4:05 PM IST
1985 में देखी बॉलीवुड फिल्म से मिली प्रेरणा, वरिष्ठ नागरिक ने लिया देहदान का फैसला
मंडी जिला में देहदान करने वालों का आंकड़ा बढता जा रहा है जो कि लगभग 50 तक पहुंच गया है.

चांद सिंह ठाकुर मूलत कांगड़ा (Kangra) जिला के पालमपुर के रहने वाले हैं, लेकिन पिछले तीस वर्षों से मंडी शहर में रह रहे हैं.

  • Share this:
मंडी: वर्ष 1985 में बालीवुड फिल्म (‌Bollywood Movie) को देखकर प्रेरित मंडी (Mandi City) शहर के खलियार निवासी वरिष्ठ नागरिक चांद सिंह ठाकुर ने एक ऐसा फैसला लिया है, जिससे वह दूसरों के लिए मिसाल बन गए हैं. 61 वर्षीय चांद सिंह ठाकुर ने अपने देहदान (Body Donation) करने का फैसला लिया है, ताकि वह मरने के बाद दूसरे लोगों को जीवन दे सकें.

30 साल से मंडी में रहते हैं चांद
चांद सिंह ठाकुर मूलत कांगड़ा (Kangra) जिला के पालमपुर के रहने वाले हैं, लेकिन पिछले तीस वर्षों से मंडी शहर में रह रहे हैं. हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक से प्रबंधक पद से सेवानिवृत चांद सिंह ठाकुर की इकलौती बेटी है. उनके इस फैसले को परिजन का भी सहयोग मिला है. मरणोपरांत उनकी देह नेरचौक मेडिकल कॉलेज में रखी जाएगी. इसके लिए उन्होंने सभी प्रकार की औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं.

मूवी का सीन जेहन से नहीं जाता- चांद

चांद सिंह ठाकुर का कहना है कि वर्ष 1985 में उन्होंने एक बालीवुड मूवी देखी थी, जिसमें प्रत्यारोपण के जरिए एक युवक को नई आंखें मिल गई थी. मूवी का यह सीन उनके जहन में इस कद्र बैठ गया कि उन्होंने उसी दिन देहदान करने का मन बना लिया. इसे अब पंजीकरण करवा पूरा कर लिया है. उन्होंने कहा कि मरणोपरांत किसी भी तरह के कर्मकांड और अन्य रीति-रिवाजों को न अपनाया जाए, इस बारे उन्होंने सभी रिश्तेदारों को सूचित भी कर दिया है.

Body donation news
चांद सिंह ठाकुर का कहना है कि वर्ष 1985 में उन्होंने एक बालीवुड मूवी देखी थी.


मंडी में बढ़ा देहदान का आंकड़ा
Loading...

बता दें कि मंडी जिला में देहदान करने वालों का आंकड़ा बढता जा रहा है जो कि लगभग 50 तक पहुंच गया है. हालांकि, पहले मंडी में यहा सुविधा नहीं थी तब लोगों को शिमला या चंडिगढ़ का रुख करना पड़ता था, लेकिन अब देहदान की सुविधा मंडी के नेरचौक मेडिकल कालेज (Nerchowk Medical College) में होने से लोग मरणोपरांत किसी के काम आने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में उपचुनाव: CM ने धर्मशाला से किया चुनावी शंखनाद

हिमाचल: छात्र संघ चुनाव पर बैन जारी, मेरिट पर चुनी जाएगी SCA

हिमाचल के ऊना में चिट्टे के साथ कार सवार दो युवक गिरफ्तार

मंडी अश्लील वीडियो: पुजारी सहित तीन और आरोपी गिरफ्तार

द जुब्बल क्लॉक: स्कूली बच्चों ने 8 दिन में बनाई अनोखी घड़ी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 3:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...