होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

Mandi Landslide: PWD विभाग में जेई था सरकाघाट का रवि, छुट्टियों पर जा रहा था घर!

Mandi Landslide: PWD विभाग में जेई था सरकाघाट का रवि, छुट्टियों पर जा रहा था घर!

हणोगी माता मंदिर के पहले जोगनी माता मंदिर के पास गाड़ी पर पत्थर गिरने से एक युवक की मौत हो गई है.

हणोगी माता मंदिर के पहले जोगनी माता मंदिर के पास गाड़ी पर पत्थर गिरने से एक युवक की मौत हो गई है.

Landslides on Chandigarh Manali National highway: दोनों घायल कुल्लू में महेंद्रा फाइनांस में काम करते हैं. बताया ज रहा है कि वीकएंड और 15 अगस्त की छुट्टी के चलते ये सभी कार में सवार होकर घर जा रहे थे. लेकिन बीच रास्ते में ही हादसा हो गया.

अधिक पढ़ें ...

मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे पर सफर करना मौत को दावत देने जैसा है. यहां पर पंडोह से आगे और ओट तक पहाड़ी से लगातार पत्थर गिर रहे हैं. शुक्रवार दोपहर बाद हणोगी माता मंदिर के पहले जोगनी माता मंदिर के पास गाड़ी पर पत्थर गिरने से एक युवक की मौत हो गई है. वही गाड़ी में सवार दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं.

सरकाघाट से था रवि, पीडब्ल्यूडी में था जेई
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस थाना औट की टीम मौके पर पहुंच गई है. 108 एंबुलेंस के माध्यम से घायलों को जोनल अस्पताल लाया गया है. पहाड़ी से पत्थर गिरने से गाड़ी पूरी तरह से चकनाचूर हो गई है.
बताया जा रहा है कि 30 वर्षीय रवि कुमार सरकाघाट के भद्रवाड़ इलाके के कलेड़ीछात्र का रहने वाला था. घायलों की पहचान 39 वर्षीय धर्मेंद पुत्र राम कृष्ण गहरा सरकाघाट व 40 वर्षीय रमेश कुमार पुत्र रूप लाल भद्रवाड़ के रूप में हुई है.

दोनों घायल कुल्लू में महेंद्रा फाइनांस में काम करते हैं. बताया ज रहा है कि वीकएंड और 15 अगस्त की छुट्टी के चलते ये सभी कार में सवार होकर घर जा रहे थे. लेकिन बीच रास्ते में ही हादसा हो गया. पुलिस अधीक्षक मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने हादसे की पुष्टि की है.

मौत का हाईवे

चंडीगढ़ मनाली हाईवे पर पंडोह से लेकर औट तक सफर करना जानवेला साबित हो रहा है. रोजाना यहां पर लैंडस्लाइड हो रहे हैं. फोरलेन की कटिंग के चलते यहां पहाड़ से पत्थर लगातार टूट रहे हैं. आए दिन लैंडस्लाइड के चलते हाईवे बंद रहता है. भारी बारिश होने पर सात मील और हणोगी मंदिर के पास ज्यादा खतरा रहता है. फिलहाल, कुल्लू जाने के लिए मंडी से कटौला मार्ग सुरक्षित रास्ता है. हालांकि, यह मार्ग सिंगल लेन है.

Tags: Himachal pradesh, Mandi Crime News

अगली ख़बर