• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • मंडी: पधियूं स्कूल के बच्चे आपदा प्रबंधन में माहिर, हासिल किया पहला स्थान

मंडी: पधियूं स्कूल के बच्चे आपदा प्रबंधन में माहिर, हासिल किया पहला स्थान

मंडी जिले के पधियूं स्कूल के बच्चों ने अपने स्कूलों को आपदा प्रबंधन के मामले में प्रथम पुरस्कार दिलवाया है.

मंडी जिले के पधियूं स्कूल के बच्चों ने अपने स्कूलों को आपदा प्रबंधन के मामले में प्रथम पुरस्कार दिलवाया है.

आपदा प्रबंधन (Disaster Management) में मंडी जिले (Mandi Distict) के पधियूं स्कूल के बच्चों ने अपनी कुशलता का लोहा पूरे प्रदेश में मनवाया है. इस स्कूल को प्रदेश भर में आपदा प्रबंधन के लिए प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ है.

  • Share this:
मंडी. आपदा प्रबंधन (Disaster Management) में मंडी जिले के पधियूं स्कूल (Padhiyun School) के बच्चों ने अपनी कुशलता का लोहा पूरे प्रदेश में मनवाया है. इस स्कूल को प्रदेश भर में आपदा प्रबंधन के लिए प्रथम पुरस्कार (First Prize) प्राप्त हुआ है. पहाड़ी प्रदेश हिमाचल में आपदाएं आना स्वभाविक सी बात है. यहां की भौगोलिक परिस्थितियों के कारण यहां कभी भी किसी भी प्रकार की आपदा आपको घेर सकती है, लेकिन इन आपदाओं से आपको कैसे निपटना है और खुद को सुरक्षित बचाना है. इसके लिए प्रदेश भर में आपदा प्रबंधन पर जोर दिया जा रहा है. खास तौर पर स्कूली बच्चों को आपदा प्रबंधन पर अधिक ज्ञान बांटा जा रहा है. इस कड़ी में मंडी जिले के सदर उपमंडल के तहत आने वाले मिडल स्कूल पधियूं ने अपनी कुशलता का परिचय देते हुए प्रदेश भर में अपना लोहा मनवाया है. इस स्कूल में आपदा प्रबंधन के नाम पर जो कुछ किया जा रहा है, उसकी जितनी तारीफ की जाए, वह कम है.

आग, बाढ़ और भूकंप जैसी आपदाओं से निपटने को तैयार है स्कूल

स्कूल का हर कोना हर प्रकार की आपदा से निपटने के लिए तैयार नजर आता है. स्कूल में आग, बाढ़ और भूकंप जैसी आपदाओं से निपटने के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. खास बात यह है कि इस स्कूल के छोटे-छोटे बच्चे आपदा प्रबंधन की बारीकियों में निपुण हो गए हैं. बच्चों को इस बात का पूरा पता है कि आपदा के समय उन्हें किस प्रकार से खुद को सुरक्षित रखना है और दूसरों की जान भी बचानी है.

मिडल स्कूल पधियूं में आपदा प्रबंधन के कार्यक्रम प्रभारी राकेश कौशल बताते हैं कि डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर, आपदा प्रबंधन की तरफ से अमरजीत सिंह और स्कूल प्रबंधन के मार्गदर्शन और सहयोग से ही आज स्कूल को यह मुकाम हासिल हो पाया है. राकेश कौशल के अनुसार पहले भी स्कूल को जिला स्तर पर प्रथम पुरस्कार हासिल हुआ था. भविष्य में स्कूल का यह स्थान बरकरार रहे, इस दिशा में प्रयास किया जाएगा. वहीं स्कूली बच्चों के माध्यम से उनके परिवारों व गांव तक आपदा प्रबंधन के तरीके पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा.

Disaster
पधियूं स्कूल में आग, बाढ़ और भूकंप जैसी आपदाओं से निपटने के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.


12 स्कूलों को आपदा प्रबंधन के लिए नवाजा गया सम्मान

बता दें कि आपदा प्रबंधन के कुशल संचालन के लिए प्रदेश के 12 स्कूलों को प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थानों से नवाजा गया है. यह वह स्कूल हैं कि जहां आपदा प्रबंधन की जमीनी हकीकत नजर आती है.

यह भी पढ़ें: गोबिंद सागर झील और स्वां नदियों में सात समंदर पार से पहुंचे विदेशी पक्षी

हिमाचल में 15 साल के नाबालिग ने 5 वर्षीय मासूम से किया दुष्कर्म

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज