Home /News /himachal-pradesh /

मंडी पुलिस के 6 जवान हो सकते हैं सस्पेंड, गैंगरेप के आरोपियों की आवभगत में जवाब तलब

मंडी पुलिस के 6 जवान हो सकते हैं सस्पेंड, गैंगरेप के आरोपियों की आवभगत में जवाब तलब

मंडी में गैंगरेप के आरोपियों की आवाभगत का मामला.

मंडी में गैंगरेप के आरोपियों की आवाभगत का मामला.

Mandi Police on Gang rape accused Controversy: एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री का कहना है रिपोर्ट मिलने के बाद संबंधित पुलिस कर्मचारियों को नोटिस जारी कर तीन दिन के भीतर जवाब मांगा गया है. जवाब आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी.

मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी (Mandi) जिले में पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों में है. जंजैहली में क्लर्क की संदिग्ध मौत में कार्रवाई में जहां देरी पर डीएसपी को जांच से हटा दिया गया था. वहीं, अब मंडी के सेरी मंच में गैंगरेप के आरोपियों को सार्वजनिक रूप से खाना खिलाने के मामले में छह पुलिस कर्मी पर गाज गिर सकती है. एसपी मंडी (SP Mandi) ने सभी को नोटिस जारी कर तीन दिन के भीतर जवाब मांगा है. इन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड किया जा सकता है.

दरअसल, 14 दिसंबर को सुंदरनगर में युवती से गैंगरेप के आरोपियों को को कोर्ट में पेश करने के लिए छह पुलिस जवान लेकर लाए थे. इसके बाद इन सभी को सेरी मंच पर धूप में बैठाकर परिजनों से मिलने दिया गया. इस दौरान परिजनों ने उनको खाना खिलाया, जबकि पुलिस जवानों ने परिजनों को रोका भी नहीं.

क्या कहता है नियम

नियम के अनुसार, कोर्ट में पेश करने के दौरान आरोपियों को परिजनों से नहीं मिलने दिया जाता है और अगर खाना भी खिलाना हो तो पुलिस कर्मचारी अपनी निगरानी में उन्हें खाना खिलाते हैं. मामले के फोटो वायरल होने के चलते पुलिस पर सवाल उठे थे.

क्या कहती हैं एसपी मंडी

एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने मामला संज्ञान में आने पर एएसपी विवेक चैहल को जांच के आदेश दिए थे. एएसपी ने तीन दिन में जांच रिपोर्ट एसपी को सौंप दी थी. इसमें पुलिस कर्मचारी लापरवाही करने के दोषी पाए गए हैं. एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री का कहना है रिपोर्ट मिलने के बाद संबंधित पुलिस कर्मचारियों को नोटिस जारी कर तीन दिन के भीतर जवाब मांगा गया है. जवाब आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी.

जंजैहली में कार्रवाई नहीं की

जैंजहली में शिक्षा विभाग के क्लर्क का शव संदिग्ध हालात में मिला था. यहां पर शुरू में पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज नहीं किया था, जबकि परिजनों ने हत्या की आशंका जताई थी. बाद में मामले को लेकर काफी बवाल हुआ था. एसपी मंडी को खुद मौके पर जाना पड़ा था. उसके बाद मर्डर का केस दर्ज हुआ था. डीएसपी करसोग के खिलाफ लोगों में रोष था और बाद में उन्हें जांच से हटा दिया गया था.

Tags: Himachal pradesh, Mandi, Mandi news, Shimla police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर