Home /News /himachal-pradesh /

कोटरोपी-खजरी मार्ग बदहाल, दो बार हादसे का शिकार होते-होते बची HRTC बस

कोटरोपी-खजरी मार्ग बदहाल, दो बार हादसे का शिकार होते-होते बची HRTC बस

मौके पर कीचड़ होने की वजह से बस स्किड कर गई थी.

मौके पर कीचड़ होने की वजह से बस स्किड कर गई थी.

चमन चंदेल, एसडीओ पीडब्ल्यूडी सब डिवीजन पधर का कहना है कि सड़क की कम चौड़ाई होने के चलते वाहनों को पास देने में दिक्कत होती थी.

    लोक निर्माण विभाग पधर उपमंडल के अधीन कोटरोपी-चुक्कू-खजरी मार्ग अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है. मार्ग में पीएमजीएसवाई के अधीन लगभग पौने 6 करोड़ की लागत से सड़क के अपग्रेडेशन का कार्य चला हुआ है, जिसके लिए जगह जगह पर कटिंग के साथ साथ डंगे का निर्माण किया जा रहा है. लेकिन सड़क में की गई कटिंग जरा सी बारिश में दलदल बन रही है.

    आलम इस तरह है कि हर रोज निगम की बस सहित अन्य छोटे बड़े वाहन दलदल में फंस रहे हैं, जिससे जहां वाहनों के कलपुर्जों का नुकसान हो रहा है. वहीं, निगम की बस दो दिन पहले दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल बाल बची थी. यहां निगम का बस चालक होशियारी नहीं बरतता तो बस एक रिहायसी मकान को भी चपेट में ले लिए, जिससे बड़ा नुकसान होने का अंदेशा था. बस का अगला टायर सड़क से बाहर निकल गया था.

    वहीं, रविवार को फिर से देवधार के पास स्किड होने से बाल-बाल हादसा टला. निगम की बस चुक्कू के पास भूस्खलन होने से जाम में फंसी रही. बाद में जेसीबी लगा कर सड़क को बहाल करने बाद बस को निकाला तो बस देवधार के पास स्किड हो गई. यहां खुला और चौड़ा मोड़ होने के बावजूद बस का अगला हिस्सा सड़क से बाहर हो गया. जेसीबी मशीन लगाकर बस को निकाला गया. इससे पहले, एक ट्रक भी यहां दुर्घटना का शिकार होते-होते बचा था.

    दोपहिया वाहन सड़क की इस दलदल में दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं. मार्ग में नागणी के पास लुणी खड्ड पुल के समीप सड़क की कटिंग करने बाद नाली की निकासी न होने से सड़क पूरी तरह तालाब बनी हुई है. लोक निर्माण विभाग द्वारा इस बारे कोई सुध न लेने पर ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर है. ग्रामीणों का कहना है कि पीएमजीएसवाई के तहत यह इतना बड़ा कार्य चला है, लेकिन यातायात में कोई अव्यवस्था पैदा न हो यह देखना लोक निर्माण विभाग का काम है. जबकि यहां पर विभागीय जेई और अन्य अधिकारी कभी भी स्पॉट विजिट नहीं करते.

    ठेकेदार के कार्य की जांच को लेकर भी बेलदार तैनात किए गए हैं. ठेकेदार के मजदूर अपनी मनमानी करते हुए कार्य कर रहे हैं. जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है. एक सप्ताह से साफ मौसम में भी निगम की बस यहां लगातार फंसती आ रही है, जबकि दो बार हादसा होते होते टला है. मार्ग की दुर्दशा इस कद्र है कि यहां पैदल चलना भी ग्रामीणों को मुश्किल हो रहा है. एक दो दिनों में स्कूल खुलने वाले हैं. आलम यही रहा तो स्कूली विद्यार्थियों को पैदल सफर कर स्कूल पहुंचना पड़ेगा.

    ग्रामीणों में रमेश चंद, नरेश कुमार, बुद्धि सिंह, प्यार चंद, कृष्ण कुमार, हरि सिंह, श्याम चंद, राजकुमार, रंगीलू राम और गुरदेव सहित अन्यों ने कहा कि विभागीय अधिकारियों को इस बारे में अवगत करवाने के बाद भी कोई सुध नहीं ली जा रही है. कोटरोपी खजरी सड़क पर कटिंग का कार्य चला हुआ है.

    ये बोले अधिकारी
    चमन चंदेल, एसडीओ पीडब्ल्यूडी सब डिवीजन पधर का कहना है कि सड़क की कम चौड़ाई होने के चलते वाहनों को पास देने में दिक्कत होती थी. ताजा कटिंग होने के चलते और बारिश के दिन सड़क से बाहर पास देती बार गाड़ी फंस जाती है. लोक निर्माण विभाग स्थिति पर नजर रखे हुए है. जितेंद्र गुप्ता, अधिशाषी अभियंता मंडी का कहना है कि बार-बार वाहन फंसने का मामला मेरे ध्यानार्थ नहीं लाया गया था. ऐसी बात है तो मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लिया जाएगा. फील्ड स्टाफ सहित एसडीओ को साइट विजिट रेगुलर करने के आदेश दिए जाएंगे.

    ये भी पढ़ें : VIDEO: हिट एंड रन: ऊना में तेज रफ्तार कार ने लोगों को रौंदा, 7 नाबालिगों समेत 9 घायल

    VIDEO: हिमाचल कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष कुलदीप राठौर का Exclusive इंटरव्यू

    PHOTOS: मनाली में आधा फीट बर्फबारी, रूह खुश करने वाली 10 तस्वीरें…

    चाय की दुकान से चिट्टा और चरस बरामद, आरोपी दुकानदार गिरफ्तार

    VIDEO: यहां लोहड़ी उत्सव पर पंजाबी गायक शेरी मान ने लोगों को यूं नचाया

    Tags: HRTC, Mandi, Mandi news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर