Home /News /himachal-pradesh /

meet himachal board 10th class all three toppers girls from mandi hpvk

HP Board 10th Results: मिलिये, मंडी की टॉपर बेटियों से, तीनों बनना चाहती हैं डाक्टर

हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड के दसवीं के वार्षिक परिणामों में इस बार मंडी जिला की बेटियों ने अपनी कामयाबी का डंका बजाया है.

हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड के दसवीं के वार्षिक परिणामों में इस बार मंडी जिला की बेटियों ने अपनी कामयाबी का डंका बजाया है.

HPBOSE 10th Result 2022, hpbose.org: हिमाचल प्रदेश बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन ने 10वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है. हिमाचल प्रदेश बोर्ड कक्षा 10वीं का पास प्रतिशत 87.5 फीसदी रहा है. हिमाचल प्रदेश कक्षा 10वीं का बोर्ड रिजल्ट ऑफिशियल वेबसाइट hpbose.org पर चेक किया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

हिमाचल प्रदेश बोर्ड कक्षा 10वीं के परिणाम में लड़कियों का दबदबा देखा गया है.
HP Board 10वीं की परीक्षा में प्रियंका 99 फीसदी अंक हासिल कर प्रथम स्थान पर रही हैं.
प्रियंका मंडी के सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल की छात्रा है. एंग्लो संस्कृत मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल, मंडी की देवांगी शर्मा ने भी 10वीं में पहला स्थान हासिल किया है.

मंडी. हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड के दसवीं के वार्षिक परिणामों में इस बार मंडी जिला की बेटियों ने अपनी कामयाबी का डंका बजाया है. पहले स्थान पर दो छात्राएं हैं और दोनों मंडी जिला की रहने वाली हैं, जबकि तीसरे स्थान पर भी मंडी जिला की बेटी ने ही कब्जा जमाया है.

प्रियंका पुत्री प्रभ दयाल और देवांगी शर्मा पुत्री हितेश शर्मा ने 700 में से 693 अंक लेकर प्रदेश भर में पहला स्थान हासिल किया है. वहीं अंशुल ठाकुर पुत्री महेंद्र सिंह ने 700 में से 691 अंक लेकर तीसरा स्थान हासिल किया है. तीनों बेटियों की इच्छा डाक्टर बनकर लोगों की सेवा करने की है.

ग्रामीण डाक सेवक की बेटी है हिमाचल की टॉपर प्रियंका

मंडी के करसोग उपमंडल के तहत आने वाले धार्मिक पर्यटन स्थल तत्तापानी में स्थित एसवीएम स्कूल से दसवीं की पढ़ाई करके प्रदेश भर में टॉपर बनने वाली प्रियंका के पिता प्रभ दयाल डाक विभाग में बतौर ग्रामीण डाक सेवक कार्यरत हैं. प्रियंका एक साधारण परिवार से संबंध रखती हैं और पढ़ाई में इनकी विशेष रुचि है. प्रियंका ने बताया कि उनका सपना डॉक्टर बनने का है और वे अपने इसी उद्देश्य को हासिल करने की दिशा में आगे बढ़ रही हैं. रोजाना 4 से 5 घंटे पढ़ाई करती है। प्रियंका अब 11वीं की पढ़ाई सुन्नी स्कूल से कर रही है.

पिता की मृत्यु के बाद बड़ी बहन से मिली प्रेरणा, टॉपर बन गई देवांगी

मंडी शहर के पुरानी मंडी वॉर्ड निवासी देवांगी शर्मा को टॉपर बनने की प्रेरणा अपनी बड़ी बहन रिधि शर्मा से मिली. 2018 में रिधि शर्मा भी प्रदेश भर में दूसरे स्थान पर रही थी. देवांगी की पढ़ाई एंग्लो संस्कृत मॉडल स्कूल मंडी से हुई है. देवांगी के पिता इसी स्कूल में अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत थे, लेकिन 2018 में उनका देहांत हो गया. अब उनके स्थान पर देवांगी की माता अपनी सेवाएं दे रही है और बेटियों की सही ढंग से परवरिश कर रही है. देवांगी ने बताया कि उसका और उसकी बड़ी बहन के बीच पढ़ाई को लेकर हमेशा ही कंपीटिशन चला रहता है और उसी का नतीजा है कि आज उसने टॉप किया है। देवांगी का सपना भी डॉक्टर बनने का है.

तीनों बेटियों की इच्छा डाक्टर बनकर लोगों की सेवा करने की है.

माता-पिता शिक्षक, खुद डॉक्टर बनना चाहती है अंशुल ठाकुर

सरकाघाट उपमंडल के एसबीएम मौंहीं की छात्रा अंशुल ठाकुर ने प्रदेश भर में तीसरा स्थान हासिल किया है. अंशुल के पिता महेंद्र सिंह और माता नीलम शिक्षक है. पिता सरकारी स्कूल में तैनात हैं जबकि माता उसी स्कूल में पढ़ाती हैं, जहां अंशुल खुद शिक्षा ग्रहण कर रही है. अंशुल ने बताया कि उसका सपना अच्छी और बेहतर मेडिकल की पढ़ाई करके डॉक्टर बनने का है.

Tags: Himachal, Himachal Government, Himachal news, Mandi news, Results, Resultsboard results

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर