CM जयराम ठाकुर की रैली में पहुंचे MLA अनिल शर्मा, कुर्सी न मिलने पर लौटे

अनिल शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा ने मंडी सीट से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा. इस कारण ही अनिल शर्मा की सरकार के साथ अनबन हो गई और उन्हें मंत्रीपद से इस्तीफा देना पड़ा. हालांकि, अभी तक वह भाजपा के विधायक हैं.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 5, 2019, 6:31 PM IST
CM जयराम ठाकुर की रैली में पहुंचे MLA अनिल शर्मा, कुर्सी न मिलने पर लौटे
मंडी में सीएम के कार्यक्रम में पहुंचे थे अनिल शर्मा.
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 5, 2019, 6:31 PM IST
लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान सरकार से इस्तीफा देने के बाद बुधवार को अनिल शर्मा मंडी में भाजपा की आभार रैली में बिन बुलाए मेहमान की तरह पहुंच गए. मंच पर पहुंचे अनिल शर्मा को जब बैठने के लिए कहीं जगह नहीं मिली तो फिर उन्हें घर लौटना पड़ा, लेकिन इससे पहले, उन्होंने पुलघराट के पास सीएम जयराम ठाकुर का स्वागत किया. खुद अनिल शर्मा ने बताया कि वह भाजपा की रैली में गए थे, लेकिन मंच पर जगह नहीं मिलने के कारण घर लौट आए.

विधायक के नाते गया था
अनिल शर्मा ने कहा कि स्थानीय विधायक होने के नाते वह सीएम का स्वागत करने के लिए गए थे. अभी वह भाजपा के विधायक हैं और यह सरकार व संगठन को ही तय करना है कि उनके बारे में क्या निर्णय लेना है, लेकिन अभी वह पार्टी के विधायक हैं और इसी नाते वह पार्टी के कार्यक्रम में गए थे.

छोटी सी मुलाकात-सीएम

सीएम जयराम ठाकुर ने भी बताया कि अनिल शर्मा और उनकी छोटी सी मुलाकात हुई है, लेकिन इस मुलाकात में कोई बात नहीं हुई है. दोनों ने हाथ जोड़कर एक दूसरे का अभिवादन किया. सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि अभी अनिल शर्मा भाजपा के विधायक हैं और उस नाते ही वह पार्टी के कार्यक्रम में आए होंगे. उन्होंने कहा कि अगर चुनाव में उन्होंने पार्टी के लिए काम किया होता तो आज परिस्थितियां विपरित होती. जयराम ठाकुर ने कहा कि अनिल शर्मा के बारे में क्या निर्णय लेना है, यह भविष्य में तय किया जाएगा.

इसलिए बदल गए रिश्ते
अनिल शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा ने मंडी सीट से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा. इस कारण ही अनिल शर्मा की सरकार के साथ अनबन हो गई और उन्हें मंत्रीपद से इस्तीफा देना पड़ा. हालांकि, अभी तक वह भाजपा के विधायक हैं जबकि पार्टी की तरफ से उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. गौरतलब है कि आश्रय को मंडी से करारी हार झेलनी पड़ी है.
ये भी पढ़ें: धर्मशाला स्टेडियम में भिड़ेंगे भारत-द.अफ्रीका, ये है शेड्यूल

मंडी में ब्यास में मिला डेढ़ साल बच्ची का शव, नहीं हुई पहचान

कमांद में लगी आग, तीन भाइयों का 12 कमरों का मकान खाक

हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने भेजा 10वीं मैथ्स का उल्टा प्रश्नपत्र

ब्रॉडबैंड से जुड़ेंगी हिमाचल की 3226 पंचायतें, मिली मंजूरी

मंडी में कांग्रेस की हार पर मंथन: फिर EVM पर फोड़ा ठीकरा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...